फोटो स्टोरी /कांग्रेस प्रत्याशी पेपर पढ़ नहीं पा रहे थे तो अमरिंदर ने अपना चश्मा दे दिया, फिर भरा पर्चा



पंजाब: सांसद संतोख सिंह ने सोमवार को जालंधर में नामांकन भरा। इस दौरान उन्हें पेपर पढ़ने में दिक्कत हो रही थी, तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें अपना चश्मा निकालकर दे दिया। कांग्रेस के एक और नेता से पेन लेकर हस्ताक्षर किए। पंजाब: सांसद संतोख सिंह ने सोमवार को जालंधर में नामांकन भरा। इस दौरान उन्हें पेपर पढ़ने में दिक्कत हो रही थी, तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें अपना चश्मा निकालकर दे दिया। कांग्रेस के एक और नेता से पेन लेकर हस्ताक्षर किए।
X
पंजाब: सांसद संतोख सिंह ने सोमवार को जालंधर में नामांकन भरा। इस दौरान उन्हें पेपर पढ़ने में दिक्कत हो रही थी, तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें अपना चश्मा निकालकर दे दिया। कांग्रेस के एक और नेता से पेन लेकर हस्ताक्षर किए।पंजाब: सांसद संतोख सिंह ने सोमवार को जालंधर में नामांकन भरा। इस दौरान उन्हें पेपर पढ़ने में दिक्कत हो रही थी, तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें अपना चश्मा निकालकर दे दिया। कांग्रेस के एक और नेता से पेन लेकर हस्ताक्षर किए।

Dainik Bhaskar

Apr 23, 2019, 11:01 AM IST

जालंधर. सांसद संतोख सिंह चौधरी ने सोमवार को नामांकन भरा। इस दौरान जब चौधरी नामांकन पेपर पढ़ने लगे तो कमजोर नजर होने की वजह से उन्हें कुछ दिखा नहीं। तब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपना चश्मा उन्हें दे दिया। इस दौरान जब वह साइन करने लगे तो साथ खड़े केपी ने उन्हें पेन दिया। नामांकन भरने से पहले कैप्टन नाराज चल रहे मोहिंदर सिंह केपी के घर पर पहुंचे और उन्हें चुनाव अधिकारी के ऑफिस ले आए।

  • हरियाणा: सैलजा ने हाथ खींच हुड्‌डा को बैठाना चाहा

    हरियाणा: सैलजा ने हाथ खींच हुड्‌डा को बैठाना चाहा

    अम्बाला. कांग्रेस की प्रत्याशी सैलजा के नामांकन से पहले मानव चौक के समीप जनसभा हुई। मंच पर जब पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा पहुंचे तो सैलजा ने हुड्‌डा का हाथ पकड़कर उन्हें नीचे खींच कर बैठने के लिए कहा, लेकिन हुड्‌डा को वापस जाने की जल्दी थी। इसलिए उन्होंने बैठने की बजाए सैलजा को ही मंच से उठा दिया। हुड्‌डा ने सैलजा को से कहा कि उनके बेटे दीपेंद्र को भी रोहतक में नामांकन आज ही भरना है। इसलिए वह यहां पहले आए। यहां नामांकन के बाद वह हेलिकॉप्टर में बैठकर सैलजा के साथ रोहतक के लिए उड़ान भर गए, पर बेटे के नामांकन में नहीं पहुंच पाए। 

  • गुजरात : एक वोट वाले बूथ का कवरेज करने अमेरिका से आई पत्रकार

    गुजरात : एक वोट वाले बूथ का कवरेज करने अमेरिका से आई पत्रकार

    ऊना. गुजरात में गिर वन क्षेत्र के बीच बनने वाले बाणेज मतदान केंद्र पर सिर्फ एक ही वोट पड़ता है। यह वोट है महंत भरतदास बापू का। भरतदास देश के इकलौते ऐसे मतदाता हैं, जिनके लिए मतदान केंद्र बनवाया जाता है। इस बार उनके मताधिकार प्रयोग को कवरेज करने के लिए अमेरिका से एक महिला पत्रकार गुजरात पहुंची है। उनका नाम एनालिसा मेरिली है। उन्होंने सोमवार को ऊना के उप-कलेक्टर और चुनाव अधिकारी एमके प्रजापति से मुलाकात की। जानकारी के मुताबिक, बाणेज में पड़ने वाले एक वोट के लिए 25 हजार रुपए खर्च होता है। वहीं, शहरी इलाकों में बनने वाले बूथ पर एक हजार से 1500 तक वोट पड़ते हैं। 
     

  • राजस्थान: मोदी ने पैर छूने से मना किया

    राजस्थान: मोदी ने पैर छूने से मना किया

    उदयपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को उदयपुर में जनसभा की। 29 मिनट के भाषण में राष्ट्रवाद, युवा मतदाता, आदिवासी, किसान और मेवाड़ के शौर्य पर सबसे ज्यादा फोकस किया। जबकि रोजगार, महंगाई, राम मंदिर सहित अन्य कई मुद्दों को छुआ तक नहीं। वहीं, राष्ट्रीय सुरक्षा के जरिए राष्ट्रवाद को लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय सुरक्षा को एक महत्वपूर्ण मुद्दा बताया।

  • लुधियाना. खसखस की पुड़ियों का हार पहन भरा नामांकन

    लुधियाना. खसखस की पुड़ियों का हार पहन भरा नामांकन

    लुधियाना (पंजाब). चुनाव लड़ रहे कई प्रत्याशी अलग पहचान के लिए तरह-तरह के यत्न कर रहे हैं। सोमवार को मुल्लांपुर दाखा के जय प्रकाश जैन उर्फ टीटू ने खसखस की माला पहनकर नामांकन पत्र भरा। इसके बाद टीटू ने कहा कि सांसद बनने पर सबसे पहला काम खसखस की खेती को मंजूरी दिलाने का करूंगा।
     

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना