पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ओम बिरला 17वीं लोकसभा के अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं, आज नामांकन दाखिल करेंगे

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ओम बिड़ला को पुष्प माला पहनातीं पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन।
  • ओम बिरला राजस्थान की कोटा-बूंदी लोकसभा सीट से सांसद हैं
  • वे 2003, 08, 13 में राजस्थान विधानसभा के अध्यक्ष भी रह चुके हैं

नई दिल्ली. भाजपा सांसद ओम बिड़ला 17वीं लोकसभा के अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं। लोकसभा सचिवालय के सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार को बिड़ला ने नामांकन पत्र दाखिल किया। वे राजस्थान की कोटा-बूंदी लोकसभा सीट से सांसद चुने गए हैं। बिड़ला को दस दलों ने समर्थन दिया है। केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा- हमने कांग्रेस से बात की है। वे इसका विरोध नहीं करेंगे।

 

ओम बिड़ला दूसरे टर्म में अध्यक्ष पद संभालने वाले पांचवें व्यक्ति होंगे। 1952 में पहले लोकसभा चुनाव के बाद गणेश वासुदेव मावलंकर को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

 

लोकसभा स्पीकर किस टर्म में अध्यक्ष बने
पहली गणेश वासुदेव मावलंकर पहला टर्म
पहली एमए अयंगर पहला टर्म
चौथी नीलम संजीव रेड्डी पहला टर्म
6वीं केएस हेगड़े     पहला टर्म
7वीं बलराम जाखड़ पहला टर्म
13वीं मनोहर जोशी पहला टर्म
तीसरी हुकुम सिंह दूसरा टर्म
5वीं गुरदयाल सिंह ढिल्लों दूसरा टर्म
12वीं जीएमसी बालयोगी दूसरा टर्म
9वीं रवि रे दूसरा टर्म
17वीं ओम बिड़ला दूसरे टर्म में बनेंगे

 

 

मोदी-शाह-राजनाथ ने प्रस्तावित किया बिड़ला का नाम

केंद्रीय मंत्री जोशी ने कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने लोकसभा स्पीकर के लिए ओम बिड़ला का नाम प्रस्तावित किया था। बीजू जनता दल (बीजद), शिवसेना, नेशनल पीपुल्स पार्टी, मिजो नेशनल फ्रंट, अकाली दल, लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा), वाईएसआर कांग्रेस, जदयू, अन्नाद्रमुक और अपना दल ने बिड़ला का समर्थन किया है। लोकसभा सचिवालय सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार को बिड़ला ने नामांकन पत्र दाखिल कर दिया। ओम की पत्नी अमिता बिड़ला ने मंगलवार को कहा कि यह हमारे लिए बेहद गर्व और खुशी का पल है। उन्हें चुने जाने के लिए हम कैबिनेट के बहुत आभारी हैं। ओम मंगलवार को भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने पहुंचे थे।


2004-08 तक राजस्थान सरकार में संसदीय सचिव रहे
ओम बिड़ला का जन्म 4 दिसंबर 1962 को कोटा में हुआ था। उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत छात्रसंघ चुनाव से की। बिड़ला 2003, 2008 और 2013 यानी तीन बार राजस्थान विधानसभा के सदस्य रह चुके हैं। 2004 से 2008 तक राजस्थान सरकार में संसदीय सचिव रहे। वह छह साल तक अखिल भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और फिर भारतीय जनता युवा मोर्चा राजस्थान प्रदेश के प्रदेशाध्यक्ष रहे। इस बार लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के रामनारायण मीणा को 2,79,677 वाटों से हराया था। उन्हें कुल 8,00,051 वोट मिले थे। कोटा से वे 2014 में भी सांसद चुने गए थे।

 

16वीं लोकसभा में सुमित्रा महाजन स्पीकर थीं

सोमवार को ही टीकमगढ़ के सांसद वीरेंद्र कुमार को प्रोटेम स्पीकर बनाया गया था। इससे पहले सुमित्रा महाजन लोकसभा की अध्यक्ष थीं। महाजन इंदौर लोकसभा सीट से आठ बार सांसद रह चुकीं हैं। इस बार उन्होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया था।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए उपलब्धियां ला रहा है। उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। आज कुछ समय स्वयं के लिए भी व्यतीत करें। आत्म अवलोकन करने से आपको बहुत अधिक...

और पढ़ें