महाराष्ट्र में रेलवे फुट ब्रिज हादसे में महिला की मौत:पुल का स्लैब धसकने से 60 फीट नीचे रेलवे ट्रैक पर गिरे थे लोग; 12 घायल

मुंबई2 महीने पहले

महाराष्ट्र के चंद्रपुर में बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर बने फुट ओवरब्रिज का एक हिस्सा रविवार को रेलवे ट्रैक पर गिर गया। हादसे में कई यात्री पुल से 60 फीट नीचे रेलवे ट्रैक पर गिर गए थे। 13 लोग घायल हुए थे। देर रात एक 48 साल की महिला निलिमा रंगारी की मौत हो गई। वह ICU में एडमिट थी। एक अन्य महिला की भी स्थिति गंभीर बनी हुई है। वह भी ICU में है।

इससे पहले शाम करीब 5 बजकर 10 मिनट पर हुए हादसे के बाद स्टेशन पर अफरातफरी मच गई। स्टेशन पर मौजूद यात्रियों ने घायलों को ट्रैक से उठाया। बड़ी बात ये रही कि हादसे के दौरान ट्रैक पर कोई ट्रेन नहीं थी। रेलवे अधिकारियों ने घटना की सूचना मिलते ही प्लेटफॉर्म पर आने वाली ट्रेनों को रोक दिया। घायलों को फौरन सिविल अस्पताल शिफ्ट किया गया।

हादसे के बाद बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर अफरातफरी मच गई। लोग नीचे गिरे यात्रियों को बचाने दौड़ पड़े।
हादसे के बाद बल्लारशाह रेलवे स्टेशन पर अफरातफरी मच गई। लोग नीचे गिरे यात्रियों को बचाने दौड़ पड़े।

घायलों को रेलवे की तरफ से मुआवजे का ऐलान
सेंट्रल रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर (CPRO) शिवाजी सुतार ने बताया कि रेलवे ने गंभीर रूप से घायल यात्रियों को 1 लाख रुपए और सामान्य घायलों को 50 हजार रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। घायलों का इलाज सिविल अस्पताल में किया जा रहा है।

फुट ओवरब्रिज टूटने पर लोग पटरियों पर गिर गए, फोटो में उनका सामान दिखाई दे रहा है।
फुट ओवरब्रिज टूटने पर लोग पटरियों पर गिर गए, फोटो में उनका सामान दिखाई दे रहा है।

शाम 5.10 बजे हुआ हादसा ​​​
बल्लारशाह स्टेशन पर शाम 5.10 बजे जब यह हादसा हुआ, उस वक्त काजीपेट-पुणे एक्सप्रेस में सवार होने के लिए कई यात्री प्लेटफॉर्म नंबर एक से प्लेटफॉर्म नंबर चार पर जा रहे थे। अचानक पुल के बीचों-बीच स्लैब का एक हिस्सा ढह गया, जिससे वहां से गुजर रहे यात्री पटरियों पर गिर गए।

स्टेशन पर मौजूद यात्रियों ने घायलों को पटरियों से उठाया और अस्पताल भेजने में मदद की।
स्टेशन पर मौजूद यात्रियों ने घायलों को पटरियों से उठाया और अस्पताल भेजने में मदद की।

2014 में बल्लारशाह बना था देश का नंबर 1 रेलवे स्टेशन
तेलंगाना राज्य की ओर जाने वाले रूट पर चंद्रपुर जिले का आखिरी जंक्शन बल्लारशाह रेलवे स्टेशन है। 2014 में बल्लारशाह स्टेशन को देश का नंबर-1 रेलवे स्टेशन होने का तमगा मिला था। उस वक्त महाराष्ट्र में BJP की सरकार थी।

नीचे आप हादसे के तुरंत बाद की कुछ और तस्वीरें देख सकते हैं...

साथी यात्रियों ने घायलों को स्ट्रेचर पर उठाकर एम्बुलेंस तक पहुंचाया। घायलों काे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
साथी यात्रियों ने घायलों को स्ट्रेचर पर उठाकर एम्बुलेंस तक पहुंचाया। घायलों काे सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
फुटओवर ब्रिज का जो हिस्सा टूटा, वह पटरी पर आ गिरा।
फुटओवर ब्रिज का जो हिस्सा टूटा, वह पटरी पर आ गिरा।
रेलवे फुट ओवरब्रिज का यह हिस्सा टूटा था, जिससे यहां से गुजर रहे यात्री नीचे गिर गए।
रेलवे फुट ओवरब्रिज का यह हिस्सा टूटा था, जिससे यहां से गुजर रहे यात्री नीचे गिर गए।

आंध्र प्रदेश में बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस के कोच में लगी आग
इससे पहले रविवार को ही आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के कुप्पम में बड़ा रेल हादसा टल गया। दरअसल, बेंगलुरु-हावड़ा एक्सप्रेस के एक कोच में आग लग गई थी। पायलट की सूचना पर ट्रेन को कुप्पम स्टेशन पर रोक दिया गया। इस दौरान सभी यात्रियों को ट्रेन से नीचे उतारकर आग को बुझाया गया। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है।