• Hindi News
  • National
  • Shiv Sena MLA Meeting | Maharashtra Shiv Sena Legislative Meeting Live [Updates]; Uddhav Aaditya Thackeray

महाराष्ट्र / एकनाथ शिंदे शिवसेना विधायक दल के नेता; मातोश्री के बाहर लगे आदित्य ठाकरे के पोस्टर हटाए गए



बीएमसी ने मातोश्री (ठाकरे निवास) के बाहर लगे पोस्टर हटाए। बीएमसी ने मातोश्री (ठाकरे निवास) के बाहर लगे पोस्टर हटाए।
आदित्य ठाकरे ने कहा- राज्यपाल ने किसानों की मदद करने का भरोसा दिया है। आदित्य ठाकरे ने कहा- राज्यपाल ने किसानों की मदद करने का भरोसा दिया है।
शिवसेना विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को नेता चुना गया। शिवसेना विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को नेता चुना गया।
X
बीएमसी ने मातोश्री (ठाकरे निवास) के बाहर लगे पोस्टर हटाए।बीएमसी ने मातोश्री (ठाकरे निवास) के बाहर लगे पोस्टर हटाए।
आदित्य ठाकरे ने कहा- राज्यपाल ने किसानों की मदद करने का भरोसा दिया है।आदित्य ठाकरे ने कहा- राज्यपाल ने किसानों की मदद करने का भरोसा दिया है।
शिवसेना विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को नेता चुना गया।शिवसेना विधायक दल की बैठक में एकनाथ शिंदे को नेता चुना गया।

  • आदित्य ठाकरे राज्यपाल से मिले, कहा- महाराष्ट्र में सरकार गठन पर अंतिम फैसला उद्धव ही लेंगे
  • गठबंधन सरकार बनाने के लिए भाजपा शिवसेना को डिप्टी सीएम और 13 मंत्री पद देने को तैयार
  • संजय राउत ने कहा- अगर भाजपा के बड़े नेता कह रहे हैं कि हमारे विकल्प खुले हैं तो शिवसेना भी बच्चा पार्टी नहीं
  • मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा था- जल्द ही एनडीए की सरकार बनेगी, चिंता की जरूरत नहीं

Dainik Bhaskar

Oct 31, 2019, 09:36 PM IST

मुंबई. महाराष्ट्र में भाजपा विधायकों द्वारा मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को अपना नेता तय करने के बाद शिवसेना ने भी गुरुवार को एकनाथ शिंदे को विधायक दल का नेता चुन लिया। शिवसेना की बैठक में ठाकरे परिवार से पहली बार विधायक बने आदित्य ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा था। इसके बाद आदित्य ठाकरे पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से भी मिले। इसबीच, बीएमसी ने मातोश्री (ठाकरे निवास) के बाहर लगे पोस्टर हटाए, जिन पर लिखा था ‘महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री केवल आदित्य ठाकरे’।

 

आदित्य ने कहा कि हमारी सरकार गठन पर राज्यपाल से कोई बात नहीं हुई। इस पर अंतिम फैसला उद्धव ठाकरे ही लेंगे। इसके बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने राकांपा प्रमुख शरद पवार से उनके आवास पर मुलाकात की। राउत ने कहा कि मैं उन्हें दिवाली की शुभकामनाएं देने गया था। हमने महाराष्ट्र के मौजूदा राजनीतिक हालात पर भी चर्चा की।

 

भाजपा उपमुख्यमंत्री पद शिवसेना को देने के लिए तैयार

महाराष्ट्र में एनडीए सरकार बनाने के लिए भाजपा इस बार शिवसेना को उपमुख्यमंत्री और 13 मंत्री पद देने के लिए तैयार है। लेकिन गृह, राजस्व, वित्त और नगरीय विकास जैसे विभाग शिवसेना को देने के लिए तैयार नहीं है। शिवसेना की नजर इन विभागों पर टिकी है। पिछली सरकार में शिवसेना को 6 कैबिनेट और 7 राज्यमंत्री पद दिए गए थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार, भाजपा को शिवसेना को उपमुख्यमंत्री पद देने में कोई समस्या नहीं है, लेकिन गृह मंत्री पद देने को तैयार नहीं है। इससे पहले बुधवार को भाजपा विधायकों ने देवेंद्र फडणवीस को अपना नेता चुना था।

 

भाजपा को राजधर्म का पालन करना चाहिए: शिवसेना

  • बैठक से पहले राउत ने कहा, ‘‘गठबंधन आज भी है। यह मैं आज भी मानता हूं। लेकिन हमें इसके राजधर्म का पालन करना चाहिए। सत्ता की स्थापना के लिए 50-50 का फॉर्मूला तय हुआ था। मुख्यमंत्री पद के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण पदों का भी सामान रूप से बंटवारा होना चाहिए। यदि भाजपा के पास बहुमत है, तो उसे सत्ता का दावा करना चाहिए।’’
  • राउत ने आगे कहा, ‘‘अगर भाजपा के बड़े नेता कह रहे हैं कि हमारे पास विकल्प खुले हैं तो शिवसेना भी कोई बच्चा पार्टी नहीं है। हम 50 साल से भी पुरानी पार्टी हैं। विकल्प सभी के सामने खुले हैं।’’ भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार द्वारा शिवसेना के लिए ‘विनाश काले विपरीत बुद्धि’ जैसे शब्दों के इस्तेमाल पर राउत ने कहा- वे यह अपने बारे में कह रहे हैं। 
     

उद्धव बोले- भाजपा ने अभी तक संपर्क नहीं किया

भाजपा की ओर से शिवसेना के साथ मिलकर गठबंधन की सरकार बनाने के दावे के बीच उद्धव ठाकरे ने कहा कि सरकार बनाने को लेकर भाजपा की तरफ से अब तक किसी ने संपर्क नहीं किया है। बुधवार को मातोश्री में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में उद्धव ने कहा कि जो संभव होगा, वह सब करूंगा। संभवतः उद्धव का इशारा राज्य में भाजपा के बिना सरकार बनाने के विकल्पों की ओर था। उद्धव शिवसेना को ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद नहीं देने की बात करने वाले मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से नाराज नजर आए।

 

अठावले ने कहा- सीएम के रूप में फडणवीस को चुना
रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष रामदास अठावले ने कहा- ‘‘एनडीए गठबंधन (भाजपा-शिवसेना) को स्पष्ट बहुमत मिला है। फडणवीस को भाजपा विधायक दल का नेता चुना गया है। हमने मुख्यमंत्री के लिए उनके नाम का समर्थन करने का फैसला किया है। वह हमारे लिए एकमात्र 'फ्रंट रनर' हैं। हम चाहते हैं कि राज्य में सिर्फ एक मुख्यमंत्री रहे, जो पांच साल तक सत्ता संभाले।’’

 

फडणवीस बोले- जल्द बनेगी एनडीए सरकार

भाजपा विधानमंडल दल का नेता चुने जाने के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पार्टी विधायकों को संबोधित करते हुए कहा था कि अफवाहों पर विश्वास करने की जरूरत नहीं है। प्रदेश में जल्द ही एनडीए की सरकार बनेगी। इसलिए किसी को आशंका और चिंता करने की जरूरत नहीं है। विधानसभा चुनाव में महायुति को जनादेश मिला है। हम चुनाव में जनता के बीच गठबंधन के रूप में गए थे। मतदाताओं ने भी गठबंधन को ही स्पष्ट बहुमत दिया है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना