• Hindi News
  • National
  • Maharashtra Karnataka Border Dispute Protest Sanjay Raut Eknath Shinde | Supriya Sule Amit Shah

मुंबई में कर्नाटक की बसों पर कालिख पोती:सीमा विवाद पर मनसे का प्रदर्शन; सांसद सुप्रिया बोलीं- अमित शाह दखल दें

मुंबई2 महीने पहले
नवी मुंबई में कर्नाटक की बसों पर राज ठाकरे की पार्टी मनसे के कार्यकर्ताओं ने ब्लैक पेंट से स्प्रे किया।

महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद हिंसक होता जा रहा है। बुधवार को नवी मुंबई में मनसे कार्यकर्ताओं ने कर्नाटक की बसों पर ब्लैक पेंट स्प्रे कर विरोध जताया। वहीं ​​​​​​सोलापुर में भी स्थानीय संगठनों ने कर्नाटक की बस पर कर्नाटक CM बोम्मई की फोटो लगाकर ब्लैक पेंट स्प्रे किया।

उधर लोकसभा में NCP सांसद सुप्रिया सुले ने कहा कि पिछले 10 दिनों से महाराष्ट्र में एक मुद्दा चल रहा है। हमारे पड़ोसी राज्य कर्नाटक के CM नॉनसेंस बोल रहे हैं। वे महाराष्ट्र को अलग करने की बात कर रहे हैं। दोनों ही राज्य भाजपा शासित हैं। महाराष्ट्र के लोगों को कल कर्नाटक में जाने पर पीटा भी गया। यह एक देश है। मैं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से आग्रह करती हूं कि वे अब इस मुद्दे पर बोलें।

सोलापुर में स्थानीय संगठन के लोगों ने कर्नाटक की बसों पर स्प्रे कर विरोध जताया।
सोलापुर में स्थानीय संगठन के लोगों ने कर्नाटक की बसों पर स्प्रे कर विरोध जताया।

शिंदे भाईगीरी दिखाएं, नहीं तो इस्तीफा दें: राउत
शिवसेना उद्धव ठाकरे गुट के नेता संजय राउत ने राज्य में शासन कर रही एकनाथ शिंदे सरकार पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा कि CM शिंदे में दम है तो वे दिल्ली जाएं और केंद्र से महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच विवादित क्षेत्र बेलगाम को केंद्र शासित प्रदेश घोषित करने को कहें।

राउत ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर महाराष्ट्र को कुछ हुआ तो देश के गृह मंत्री जिम्मेदार होंगे। शिंदे सरकार को एक दिन के लिए भी सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। यह सरकार कायर है। संजय ने शिंदे को याद दिलाया कि यह छत्रपति शिवाजी महाराज का महाराष्ट्र है। वह अब अपनी भाईगीरी दिखा दें, नहीं तो इस्तीफा दे दें।

लोकसभा में NCP की सांसद सुप्रिया सुले ने महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद का मुद्दा उठाया।
लोकसभा में NCP की सांसद सुप्रिया सुले ने महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद का मुद्दा उठाया।

राउत बोले- हम कर्नाटक जाने को भी तैयार
राउत ने यह भी आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार की चुप्पी महाराष्ट्र को कमजोर कर रही है। महाराष्ट्र CM और डिप्टी सीएम अब कहां हैं। राउत ने घोषणा की कि शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) गुट कर्नाटक तक मार्च करने के लिए भी तैयार है। यह छत्रपति शिवाजी महाराज की भूमि है और हम डरते नहीं हैं।

शरद पवार पहले ही यह कह चुके हैं और अब मैं कह रहा हूं कि हम कर्नाटक जाने के लिए तैयार हैं। वे क्या करेंगे? क्या वे मुझे फिर से गिरफ्तार करेंगे। मैं उन्हें ऐसा करने की चुनौती देता हूं। मैं अपने राज्य के लिए मर-मिटने को तैयार हूं। मंत्री क्यों डरे हुए हैं, जो मंत्री सीमा पर जाने से डर रहे हैं, हम उन्हें साथ लेकर चलेंगे।

महाराष्ट्र से कर्नाटक जाने वाली बसें रद्द
महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (MSRTC) ने बुधवार को पुलिस के एक अलर्ट के मद्देनजर कर्नाटक के लिए बस सेवाएं रद्द कर दी हैं। राज्य परिवहन विभाग ने पुष्टि की कि यह कदम सुरक्षा के मद्देनजर उठाया गया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि मौजूदा सीमा विवाद के बीच कर्नाटक में बसों पर हमला किया जा सकता है। जब तक पुलिस की तरफ से सुरक्षा की मंजूरी नहीं मिल जाती है तब तक सेवाएं बंद ही रहेंगी।

शरद पवार को कर्नाटक जाने की कोई जरूरत नहीं
मंगलवार को महाराष्ट्र के डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि वह इस मुद्दे पर गृह मंत्री अमित शाह से बात करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा था कि मैंने खुद कर्नाटक के मुख्यमंत्री से बात की है। हम सुनिश्चित करते हैं कि शरद पवार साहब को कर्नाटक जाने की कोई जरूरत नहीं है। मैं इस विवाद के बारे में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात करूंगा और वह जल्द ही इस मामले को देखेंगे।

महाराष्ट्र के लोग कानून हाथ में न लें
फडणवीस ने महाराष्ट्र और कर्नाटक के लोगों से शांति बनाए रखने और कानून व्यवस्था को हाथ में नहीं लेने का आग्रह किया। उन्होंने कहा- महाराष्ट्र कानून-व्यवस्था के लिए जाना जाता है। महाराष्ट्र के लोगों से अनुरोध है कि वे कानून को अपने हाथ में न लें और सीमाओं पर शांति बनाए रखें।

यह कर्नाटक की भी जिम्मेदारी है कि वह अपने क्षेत्रों में भी कानून व्यवस्था बनाए रखे। मैंने उनसे कहा कि इस प्रकार की घटना सही नहीं थी और ऐसा दोबारा नहीं होगा। पथराव और सार्वजनिक बसों पर हमला करना दोनों सिरों के लिए सही नहीं है।

महाराष्ट्र-कर्नाटक विवाद से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें...

कर्नाटक में महाराष्ट्र के ट्रकों पर पथराव, विरोध में ठाकरे गुट के शिवसैनिकों ने कर्नाटक की बसों पर लिखा जय महाराष्ट्र

कर्नाटक और महाराष्ट्र के बीच सीमा विवाद मंगलवार को हिंसक हो गया। कर्नाटक के बेलगाम में कन्नड़ समूह के ‘कर्नाटक रक्षणा वेदिक’ के मेंबर्स ने महाराष्ट्र के ट्रकों पर पथराव कर दिया। घटना हिरबागडेवाडी टोल नाके के पास हुई। पुलिस ने पथराव कर रहे लोगों को हिरासत में ले लिया है।

उधर, घटना के विरोध में पूर्व CM उद्धव ठाकरे गुट के शिवसैनिकों ने पुणे में कर्नाटक की बसों पर ‘जय महाराष्ट्र’ लिख दिया। साथ ही कहा कि हम संस्कारी हैं इसलिए बसों को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे। पढ़ें पूरी खबर...