• Hindi News
  • National
  • ​​​​​​​​​​​​​​Maharashtra; Nashik; Income Tax Department Raid Jalna;  58 Crore Cash, 32 Kilos Of Weapons Along With Unaccounted Assets Worth 390 Crore Seized In Jalna

महाराष्ट्र में 390 करोड़ की बेनामी संपत्ति जब्त:आयकर विभाग की टीम बाराती बनकर पहुंची, कोड वर्ड था- दुल्हनिया हम ले जाएंगे; 58 करोड़ कैश मिला

नासिकएक महीने पहले

महाराष्ट्र के जालना में आयकर विभाग ने 5 बिजनेस ग्रुप्स के ठिकानों से करीब 390 करोड़ रुपए की बेनामी संपत्ति जब्त की। रेड में इनके यहां से 58 करोड़ रुपए नकद, 32 किलो सोने के आभूषण, 16 करोड़ रुपए के हीरे, मोती मिले। आयकर विभाग की टीम को कैश गिनने में करीब 13 घंटे लग गए। कुछ कर्मचारियों की कैश गिनते-गिनते तबीयत खराब हो गई।

आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक, एसआरजे स्टील, कालिका स्टील, एक को-ऑपरेटिव बैंक, फाइनेंसर विमल राज बोरा, डीलर प्रदीप बोरा के फैक्ट्री, घर और दफ्तरों पर 1 से 7 अगस्त तक यह कार्रवाई की गई। इसकी जानकारी गुरुवार को मीडिया को दी गई।

पूरी टीम ने बाराती बनकर शहर में एंट्री की। गाड़ियों पर शादी के स्टिकर चिपके थे। कुछ पर लिखा था- दुल्हनिया हम ले जाएंगे। यही कोड वर्ड भी था।

नोटों को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की लोकल ब्रॉन्च में ले जाकर गिना गया।
नोटों को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की लोकल ब्रॉन्च में ले जाकर गिना गया।

रेड में आयकर विभाग के 260 अफसर और कर्मचारी शामिल थे, जो 120 से ज्यादा गाड़ियों में आए थे। इस ऑपरेशन को एक ही समय में पांच अलग-अलग टीमों ने अंजाम दिया। आयकर विभाग ने टैक्स चोरी की आशंका जताई थी।

कपड़े की 35 थैलियों में नोटों के बंडल रखे

कपड़े की 35 थैलियों में नोटों के बंडल रखे गए थे।
कपड़े की 35 थैलियों में नोटों के बंडल रखे गए थे।

आयकर विभाग की टीम को शुरुआती जांच में कुछ पता नहीं चला। बाद में जालाना से 10 किलोमीटर दूर कारोबारी के एक फार्महाउस पर भी कार्रवाई की गई। यहां एक अलमारी के नीचे, बेड के अंदर और एक अन्य अलमारी में थैलों में रखे नोटों के बंडल मिले।

नोटों को स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की लोकल ब्रॉन्च में ले जाकर गिना गया। इन्हें गिनने में 10 से 12 मशीनें लगीं। कपड़े की 35 थैलियों में नोटों के बंडल रखे गए थे।

गाड़ियों पर 'दुल्हन हम ले जाएंगे' के स्टिकर

आयकर विभाग की टीम ने अपनी गाड़ियों पर शादी का स्टिकर चिपका रखा था।
आयकर विभाग की टीम ने अपनी गाड़ियों पर शादी का स्टिकर चिपका रखा था।

आयकर विभाग की टीम ने रेड को बेहद सीक्रेट रखा। हर तरह की एहतियात बरती गई। इसके लिए टीम ने अपनी गाड़ियों पर दूल्हे और दुल्हन के नाम के स्टिकर चिपका रखे थे, जिससे यह पता चले कि ये गाड़ियां किसी शादी में जा रही हैं। इस ऑपरेशन के दौरान सभी 'दुल्हनिया हम ले जाएंगे' कोड वर्ड में बात कर रहे थे।