धोखाधड़ी / धोनी पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, याचिका में कहा- आम्रपाली समूह नहीं चुका रहा 40 करोड़



Mahendra Singh Dhoni moves SC over 'cheating' by Amrapali Group
X
Mahendra Singh Dhoni moves SC over 'cheating' by Amrapali Group

  • धोनी की पत्नी साक्षी भी कंपनी की चैरिटेबल विंग का हिस्सा
  • 2009-2016 के बीच आम्रपाली ग्रुप के ब्रांड एम्बेसेडर भी थे धोनी
  • कंपनी ने धोनी को अब तक नहीं दिया पेंटहाउस का पजेशन

Dainik Bhaskar

Apr 27, 2019, 09:51 PM IST

नई दिल्ली. पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। दरअसल आम्रपाली ग्रुप के प्रोजेक्ट में धोनी को अब तक पेंटहाउस का पजेशन नहीं मिला है। कंपनी पर धोनी के 40 करोड़ रुपए भी बकाया है। धोनी ने पांच सालों तक कंपनी के लिए ब्रांड एम्बेसेडर की भूमिका भी निभाई है। धोनी के साथ उनकी पत्नी साक्षी भी कंपनी की चैरिटेबल विंग का हिस्सा हैं।

शीर्ष अदालत ने कंपनी के सीएमडी को पुलिस कस्टडी में भेजा

  1. धोनी ने शीर्ष अदालत में दाखिल की अपनी याचिका में कहा कि उनके द्वारा रांची में आम्रपाली सफारी में पेंटहाउस बुक करवाया गया था। इसका अधिकार अभी तक नहीं मिला है। कंपनी ने धोनी को ब्रांड एम्बेसेडर की जिम्मेदारी भी सौंपी थी। इसकी बकाया राशि भी नहीं चुकाई गई है।

  2. धोनी ने मांग की कि अदालत आम्रपाली समूह को आदेश दे कि वह धोनी को बकाया राशि का भुगतान करने के साथ ही पेंटहाउस का अधिकार भी दे। दरअसल 2009-2016 के बीच धोनी कंपनी के कुछ विज्ञापनों में भी नजर आए थे। धोनी के साथ कंपनी ने कई अनुबंध किए थे।

  3. बाद में आम्रपाली समूह आर्थिक परेशानियों में घिर गया। 46,000 लोग जो एडवांस में घर के लिए कंपनी को पैसा दे चुके थे, उन्होंने भी घर न मिलने पर कोर्ट की शरण ली। शीर्ष अदालत ने रियल एस्टेट समूह की संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया। इसमें समूह के साथ जुड़ी अन्य कंपनियां भी शामिल थीं।

  4. 25 जनवरी को कोर्ट ने सरकार के अधीन काम करने वाली नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉर्पोरेशन लिमिटेड को निर्देशित किया था कि आम्रपाली हाउसिंग प्रोजेक्ट को पूरा करें। साथ ही आम्रपाली समूह के सीएमडी अनिल शर्मा और दो निदेशकों शिव दीवानी और अजय कुमार को पुलिस कस्टडी में भेजा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना