• Hindi News
  • National
  • Mamta Banerjee Rally In Delhi Opposition Mahagathbandhan News And Updates

ममता की रैली आज, पूरे शहर में लगे पोस्टर; 25 दिन में दूसरी बार दिखाएंगी विपक्ष की ताकत

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • ममता ने कहा- मोदी जानते हैं कि वह दोबारा सत्ता में नहीं आ रहे, उनकी एक्सपायरी डेट खत्म हो गई
  • 19 जनवरी को ममता ने कोलकाता में महारैली की थी, जिसमें 15 दलों के नेता शामिल हुए थे

नई दिल्ली. राकांपा प्रमुख शरद पवार के दिल्ली स्थित आवास पर विपक्षी दलों की बैठक हुई। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आंध्र के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला शामिल हुए।

 

बैठक के बाद राहुल ने कहा- बहुत अच्छे माहौल में यह बैठक हुई है। हम इस बात पर सहमत हैं कि हमारा मुख्य लक्ष्य नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा संस्थानों पर हो रहे हमलों को खत्म करना है। हमने कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के बारे में बात शुरू कर दी है। हम साथ मिलकर भाजपा को हराने पर काम करेंगे। हालांकि, दिल्ली और बंगाल में अभी हम किस तरह चुनाव लड़ेंगे इस पर फैसला नहीं लिया गया है।

 

हम मिलकर काम करेंगे- फारूक अब्दुल्ला

फारूक अब्दुल्ला ने कहा- कॉमन मिनिमम प्रोग्राम को लेकर चर्चा हुई है। एक ऐसी सरकार आए जो सभी को एक रख सके और संस्थानों को बचा सके इसके लिए हम मिलकर काम करेंगे और इसके लिए जो भी कुर्बानी देनी पड़ेगी, हम देंगे।

 

विपक्ष को एकजुट करने के लिए आप ने की रैली

इससे पहले दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) ने बुधवार को जंतर-मंतर पर भाजपा के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने के लिए रैली की। इस दौरान चंद्रबाबू नायडू ने कहा, \'\'हम खतरे में हैं। हमें देश को बचाना होगा। लोकतंत्र खतरे में है। अगर हम सब एकजुट नहीं हुए, तो यह हमारा आखिरी चुनाव होगा। इसके बाद देश में कोई चुनाव नहीं होगा।\'\'


मोदी पाक का सपना पूरा कर रहे- केजरीवाल

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, \'\'मोदी को को कहना चाहता हूं वो पाक के प्रधानमंत्री की तरह बर्ताव करना बंद करें। देश को तोड़ कर मोदी पाकिस्तान का सपना पूरा कर रहे हैं। मैं सारे देश से कहना चाहता हूं कि इस बार जब वोट करने जाओ तो एक पढ़े लिखे प्रधानमंत्री के लिए वोट करना। आप देश के बारे में सोचे न किसी एक व्यक्ति के बारे में।\'\'

 

हम एकजुट होकर लड़ेंगे- ममता

ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ सभी पार्टियों के एकसाथ लड़ने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में हम इकट्ठे होकर लड़ेंगे। प. बंगाल में कांग्रेस-माकपा के साथ हमारी लड़ाई जारी रहेगी। लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर हम एक साथ लड़ेंगे।

 

\'मैं देश के लिए बलिदान देने के लिए तैयार\'

ममता ने कहा, \'\'उन्हें मेरे खिलाफ लड़ने दो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। देश के लिए मैं अपना जीवन और पार्टी का बलिदान करने के लिए तैयार हूं।\'\' इससे पहले उन्होंने कहा, आज लोकसभा का आखिरी दिन है। हमने बापू से प्रार्थना की है कि भाजपा और मोदी बाबू को हटाएं और देश को बचाएं।

 

केजरीवाल की रैली में 8 दलों के नेता पहुंचे

केजरीवाल की रैली में ममता बनर्जी, चंद्रबाबू नायडू, फारूक अब्दुल्ला, शरद पवार, सपा नेता रामगोपाल यादव, डीएमके नेता कनिमोझी, कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और सीपीआई के नेता सीताराम येचुरी समेत विपक्ष के कई नेता शामिल हुए।

 

एक महीने में तीसरी बार एकजुट हुआ विपक्ष

इससे पहले सोमवार को आंध्र को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने की मांग को लेकर नायडू ने अनशन किया था। इसमें राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन, सपा से मुलायम सिंह यादव, तृणमूल कांग्रेस से डेरेक ओ ब्रायन, फारूक अब्दुल्ला, केजरीवाल और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ समेत विपक्ष के तमाम नेता पहुंचे थे। 19 जनवरी को ममता ने कोलकाता में महारैली की थी, जिसमें 15 दलों के नेता शामिल हुए थे। इस दौरान ममता बनर्जी ने कहा- अखिलेश यादव, आप उत्तरप्रदेश से भाजपा को जीरो कर दो, हम बंगाल से कर देंगे। कौन प्रधानमंत्री बनेगा इससे मतलब नहीं, बस भाजपा को जाना चाहिए।