• Hindi News
  • National
  • Mani Shankar Aiyar: Congress Mani Shankar Aiyar On Narendra Modi BJP Minister Jammu Kashmir Visit; Says 31 are going to Jammu and only five to Kashmir

तंज / मणिशंकर अय्यर ने मोदी सरकार के 36 मंत्रियों को डरपोक बताया, कहा- 31 जम्मू तो सिर्फ 5 ही कश्मीर जा रहे

अय्यर ने कहा कि भाजपा को दोबारा 303 सीटें मिलने वाली नहीं। -फाइल
X

  • अनुच्छेद 370 और 35ए हटाए जाने के बाद सरकार के 36 मंत्री जम्मू-कश्मीर के हालात जायजा लेने जाने वाले हैं
  • अय्यर ने कहा- ये मंत्री कश्मीर जाकर किससे बात करेंगे, क्योंकि वहां तो सभी पूर्व मुख्यमंत्री जेल में हैं
  • ‘भाजपा के लोग धोखेबाज हैं; ये जनता के प्रतिनिधि नहीं हैं, अगर होते तो बहुत पहले चुन लिए जाते’

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2020, 02:03 PM IST

मलप्पुरम (केरल). कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर जा रहे भाजपा के 36 मंत्रियों को डरपोक बताया। उन्होंने कहा कि इनमें से 31 मंत्री जम्मू, जबकि 5 ही कश्मीर घाटी जा रहे हैं। 

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर मलप्पपुरम में अय्यर ने कहा कि मोदी सरकार के ये मंत्री कायर हैं। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि ये मंत्री कश्मीर जाकर किससे बात करने वाले हैं? क्या पूर्व मुख्यमंत्रियों से? वे ऐसा नहीं कर सकते, क्योंकि वे सभी हिरासत में हैं। फारूक और उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती जेल में हैं।’’

‘सत्ता का नशा उनके सिर चढ़ गया है’

लोकसभा चुनाव में भाजपा को मिले भारी बहुमत का जिक्र करते हुए अय्यर ने कहा कि ये घमंडी लोग हैं। सत्ता का नशा उनके सिर पर चढ़ गया है। उनके लिए यह सुनहरा मौका है। दोबारा 303 सीटें मिलने वाली नहीं हैं। जम्मू-कश्मीर में ये लोग एक अलग राजनीतिक वर्ग बनाने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा के पास घाटी में एक भी वोट नहीं है। ये लोग धोखेबाज और जनता के प्रतिनिधि नहीं हैं। अगर होते तो बहुत पहले चुन लिए जाते।

‘भाजपा के लोग शाहीन बाग जाने से क्यों डर रहे’
सीएए और एनआरसी को लेकर हो रहे प्रदर्शन पर अय्यर ने कहा, ‘‘वे (भाजपा नेता) शाहीन बाग में जाने से क्यों डरते हैं? 34 दिनों से वे भारत को धार्मिक आधार पर विभाजित करने के भाजपा के इस प्रयास के खिलाफ वहां प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा को बहुमत इसलिए मिला, क्योंकि उन्होंने कहा था कि हम सबका साथ-सबका विकास करेंगे। लेकिन, उन्होंने किया क्या, सबका साथ और सबका विनाश।’’ 15 दिसंबर से दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए और एनआरसी के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है।

18 से 25 तक मंत्रियों का जम्मू-कश्मीर दौरा

केंद्र सरकार ने 15 जनवरी को कहा था कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पहली बार स्थिति का जायजा लेने और लोगों से संपर्क बढ़ाने के लिए 36 मंत्री जम्मू-कश्मीर जाएंगे। मंत्रियों का एक हफ्ते का दौरा 18 जनवरी से शुरू हुआ। कश्मीर घाटी में सिर्फ पांच मंत्री जी किशन रेड्‌डी, रविशंकर प्रसाद, श्रीपद नाइक, निरंजन ज्योति और रमेश पोखरियाल जाएंगे। वहीं शेष मंत्री जम्मू के विभिन्न जिलों का दौरा करेंगे। पिछले साल 5 अगस्त को विशेष दर्जा खत्म करने के बाद से सरकार कश्मीर में स्थिति सामान्य करने में जुटी है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना