--Advertisement--

पहली बार / पर्रिकर ने एम्स में बुलाई गोवा कैबिनेट की बैठक, विभागों के बंटवारे पर चर्चा संभव



मनोहर पर्रिकर मनोहर पर्रिकर
X
मनोहर पर्रिकरमनोहर पर्रिकर
  • पैन्क्रियाटिक संंबंधी बीमारी के इलाज के लिए पार्रिकर 15 सितंबर से एम्स में भर्ती
  • पर्रिकर की बीमारी के चलते कांग्रेस ने गोवा सरकार की स्थिरता पर उठाए थे सवाल

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 12:19 PM IST

नई दिल्ली. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने शुक्रवार को एम्स में कैबिनेट की बैठक बुलाई। ऐसा पहली बार होगा, जब एम्स में कैबिनेट की बैठक होगी। इसमें भाजपा सरकार को समर्थन कर रही दूसरी पार्टियों के सदस्य भी शामिल होंगे। पर्रिकर को पैन्क्रियाटिक संबंधी बीमारी के इलाज के लिए 15 सितंबर को एम्स में भर्ती किया गया था। 

समर्थन देने वाली पार्टियों के विधायकों को बुलाया

  1. सूत्रों के मुताबिक, पर्रिकर बैठक में मंत्रियों के साथ-साथ समर्थन देने वाली महाराष्ट्र गोमांतक पार्टी (एमजीपी) और गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के सदस्यों से भी चर्चा करेंगे। इस दौरान विभागों के बंटवारे पर भी चर्चा होगी।

  2. भाजपा सूत्रों ने बताया कि एमजीपी नेता और लोक निर्माण मंत्री सुदिन धवलीकर, जीपीएफ नेता और शहरी योजना मंत्री विजय सरदेसाई, राजस्व मंत्री रोहन खाउंटे, कला और संस्कृति मंत्री गोविंद गवडे को बैठक में बुलाया गया है। इनके अलावा निर्दलीय विधायक प्रसाद गाओनकर भी एम्स पहुंचेंगे।

  3. गोविंद गावडे ने न्यूज एजेंसी को बताया कि मुझे बुलाया गया है। बैठक में और कौन-कौन शामिल होगा, इसकी जानकारी मुझे नहीं है। बैठक में किन विषयों पर चर्चा होगी, इसकी भी जानकारी नहीं है।

  4. कांग्रेस ने की थी फ्लोर टेस्ट की मांग

    पर्रिकर की बीमारी को लेकर विपक्षी कांग्रेस ने गोवा सरकार की स्थिरता पर सवाल उठाया था। कांग्रेस के 15 विधायकों ने 19 सितंबर को राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात कर फ्लोर टेस्ट की मांग की थी। इसी दिन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के नेताओं से मुलाकात भी की थी। उन्होंने कहा था कि पर्रिकर गोवा के मुख्यमंत्री बने रहेंगे और कैबिनेट में जल्द बदलाव हो सकता है।

  5. 40 सदस्यों वाली गोवा विधानसभा में भाजपा के 14 विधायक हैं। एमजीपी (3), जीएफपी (3) और एनसीपी (1) के समर्थन से भाजपा ने सरकार बनाई थी। कांग्रेस के 16 विधायक हैं।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..