पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Army Chief MM Naravane Ladakh Update | Army Chief General Manoj Mukund Naravane In Leh Ladakh Amid India China Border Tension

आर्मी चीफ का लेह दौरा:जनरल नरवणे ने कहा- एलएसी पर कई जगह तैनाती की गई, हालात तनावपूर्ण हैं, पर हमारे जवान भी तैयार हैं

लेहएक वर्ष पहले
  • चीन ने बीते 6 दिन में दो बार लद्दाख के पैंगॉन्ग इलाके में घुसपैठ की कोशिश की थी
  • भारतीय सेना ने चीन की कोशिशें नाकाम कर दीं, विवादित इलाके में दबदबा बनाया

लद्दाख में चीन से ताजा तनाव के बीच आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने लगातार दूसरे दिन लेह का दौरा किया। उन्होंने कहा है कि लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर हालात थोड़े नाजुक और गंभीर हैं। हमने कुछ जगहों पर ऐहतियातन जवान तैनात किए हैं, ताकि अपनी सीमाओं की सुरक्षा कर सकें। हमारे जवानों का मनोबल ऊंचा है, वे हर चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं।

'हमारे जवान दुनिया में सबसे बेहतर'
आर्मी चीफ ने कहा, "मैंने कई इलाकों का दौरा किया। अफसरों से बात कर तैयारियों का जायजा भी लिया। मैं फिर कहूंगा कि हमारे अफसर और जवान दुनिया में सबसे बेहतर हैं। वे न सिर्फ आर्मी का बल्कि देश गौरव भी बढ़ाएंगे। जवानों की सेहत अच्छी है और उनका मनोबल भी ऊंचा है। मुझे विश्वास है कि वो सीमाओं की रक्षा करने के लिए अच्छी तरह से तैयार हैं।"

'बातचीत से विवाद सुलझाने का भरोसा'
जनरल नरवणे ने बताया कि पिछले 2-3 महीनों से हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं, लेकिन हम चीन के साथ मिलिट्री और डिप्लोमेटिक लेवल पर लगातार बातचीत कर रहे हैं। यह प्रोसेस आगे भी जारी रहेगा। हमें भरोसा है कि बातचीत से विवाद सुलझा लेंगे। यह तय करेंगे कि एलएसी पर यथास्थिति बनी रहे।

चीन ने 29-30 अगस्त की रात पैंगॉन्ग इलाके में कब्जे की कोशिश की थी
पैंगॉन्ग झील के दक्षिण छोर पर स्थित एक पहाड़ी पर चीन ने कब्जे की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय जवानों ने नाकाम कर दी। उसके बाद 31 अगस्त को चीन ने उकसावे की कार्रवाई की और 1 सितंबर को फिर से घुसपैठ की कोशिश की, लेकिन चीन हर बार नाकाम रहा। इस बीच भारतीय सेना ने विवादित इलाके में कब्जा करते हुए अपना दबदबा बना लिया।

ये खबरें भी पढ़ सकते हैं....

1. भारत-चीन के बीच तनाव: विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- कूटनीति से ही समाधान निकालना होगा; हम मौजूदा चुनौतियों को हल्के में नहीं ले रहे

2. एससीओ समिट में रक्षा मंत्री:चीन राजनाथ सिंह के साथ बैठक करना चाहता है; सीमा विवाद पर भारत ने कहा- अब वह ईमानदारी से डिसएंगेजमेंट करे

खबरें और भी हैं...