पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Many MPs, Including Rahul Gandhi, Got Up From The Meeting And Left, The Demand For Discussion On Doklam Increased.

डिफेंस कमेटी की मीटिंग से राहुल का वॉकआउट:डोकलाम विवाद पर चर्चा चाहते थे कांग्रेस सांसद, स्पीकर ने इजाजत नहीं दी तो बैठक से चले गए

नई दिल्ली18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

19 जुलाई से शुरू होने वाले संसद के मानसून सत्र से पहले रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बुधवार को हुई बैठक में घमासान मच गया। राहुल गांधी समेत कांग्रेस के कई सांसद बीच में ही मीटिंग छोड़कर बाहर निकल गए। कांग्रेस सांसद पिछले साल लद्दाख के डोकलाम में हुई घटना को लेकर चर्चा करना चाहते थे, जबकि कमेटी के चेयरमैन इसके पक्ष में नहीं थे। इसके विरोध में कांग्रेसी नेताओं ने बैठक का बहिष्कार कर दिया।

हाल ही में कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि चीन डोकलाम के आसपास के इलाकों में खुद को मजबूत कर रहा है। ऐसे में कांग्रेस चाहती थी कि डिफेंस कमेटी की बैठक में इस पर विस्तार से चर्चा की जाए, लेकिन चेयरमैन ने उसे मानने से इनकार कर दिया। जिसके बाद राहुल समेत तमाम कांग्रेस सांसद उठकर चले गए।

पिछले साल भी राहुल छोड़ गए थे मीटिंग
पिछले साल दिसंबर में भी डिफेंस कमेटी की बैठक से राहुल उठकर चले गए थे। उस दौरान सीडीएस बिपिन रावत सभी सदस्यों को सैन्य बलों के यूनिफॉर्म की जानकारी दे रहे थे, तभी राहुल ने उन्हें टोकते हुए चीन का मुद्दा उठा दिया। उन्होंने पूछा कि लद्दाख में भारत की तैयारी क्या है? इस पर चेयरमैन जुएल ओराम ने उन्हें टोक दिया। जिससे नाराज राहुल बैठकर छोड़कर चले गए थे।

उन्होंने बाद में लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को लेटर लिखकर इसकी शिकायत की थी और कहा था कि हमें मीटिंग में बोलने नहीं दिया जा रहा है।

अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष बने रहेंगे
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में विपक्ष के नेता बने रह सकते हैं। उन्हें हटाने की अटकलों के बीच पार्टी सूत्रों ने संकेत दिया कि उनके इस पद पर बने रहने की संभावना है। सूत्रों का कहना है कि लोकसभा में उनके पद में फिलहाल कोई बदलाव नहीं हुआ है। इस सत्र में अधीर रंजन चौधरी लोकसभा में कांग्रेस के नेता बने रहेंगे। इससे पहले अफवाहें थीं कि कांग्रेस चौधरी की जगह किसी और को दे सकती है।

चौधरी से नाराज बंगाल के जनरल सेक्रेटरी ने इस्तीफा दिया
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के खाता नहीं खुल पाने के बाद से अधीर चौधरी पर सवाल उठ रहे हैं। चौधरी बंगाल कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं। पार्टी के पश्चिम बंगाल महासचिव रोहन मित्रा ने बुधवार को यह कहते हुए अपना पद छोड़ दिया कि उन्हें अधीर रंजन चौधरी और उनके अधीर सेना गुट ने अपमानित किया है। मित्रा ने चौधरी को लिखे लेटर में कहा है कि आपके आसपास के चापलूसों ने न केवल आपको नीचे गिराया है, बल्कि वे राज्य में पार्टी की खराब हालत का कारण भी है। भविष्य में पार्टी के दोबारा उठने के कोई साफ संकेत नहीं हैं।

किसान आंदोलन और पेट्रोल की कीमतों का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस
पार्टी के पार्लियामेंट्री स्ट्रैटेजी ग्रुप ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीटिंग की। इसमें सोनिया गांधी, राहुल गांधी, अधीर रंजन चौधरी, मनीष तिवारी, मल्लिकार्जुन खड़गे, जयराम नरेश, के सुरेश समेत अन्य सांसद शामिल हुए। इस मीटिंग में मानसून सत्र में किसान आंदोलन और पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनाई गई। पहले बताया जा रहा था कि राहुल मीटिंग में शामिल नहीं हो पा रहे हैं। बाद में वे भी इससे जुड़ गए।

खबरें और भी हैं...