पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • 22 Killed In Landslide In Mumbai's Chembur Area, Many Feared Trapped Under Debris; 16 Was Rescued

मुंबई में 4 हादसों में 30 की मौत:बारिश की वजह से चेंबूर और विक्रोली में लैंडस्लाइड से 28 मौतें, भांडुप-अंधेरी में 1-1 की जान गई

मुंबई2 महीने पहले
विक्रोली में जमींदोज हुए इस मकान की दीवारें ढह गईं। यहां रहने वाले परिवार के सदस्यों को चोटें आई हैं। एक दीवार सुरक्षित बची है जिस पर भगवान की तस्वीरें लगी हैं।

मुंबई में लगातार हो रही बारिश की वजह से शनिवार देर रात हुई लैंडस्लाइड की घटनाओं में 30 लोगों की मौत हो गई। 21 लोगों ने चेंबूर इलाके में और 7 ने विक्रोली में जान गंवाई। चेंबूर हादसे में 16 लोगों को रेस्क्यू किया गया। यहां पांच मकान ढह गए।

ग्रेटर मुंबई नगर निगम ने बताया कि चेंबूर हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 21 हो गई है। 2 घायलों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। वहीं, DCP (जोन 7) प्रशांत कदम ने बताया कि विक्रोली में गिरी इमारत के मलबे से 7 शव बरामद किए गए हैं। भांडुप में दीवार गिरने से 16 साल के लड़के की मौत हो गई। वहीं, अंधेरी इलाके में करंट लगने से एक की मौत हुई है।

NDRF की टीम लंबे समय तक राहत और बचाव कार्य में जुटी रही। स्निफर डॉग की मदद से मलबे में दबे लोगों को ढूंढा गया।
NDRF की टीम लंबे समय तक राहत और बचाव कार्य में जुटी रही। स्निफर डॉग की मदद से मलबे में दबे लोगों को ढूंढा गया।

चेंबूर के इस इलाके में संकरी गलियां, इससे रेस्क्यू में मुश्किल
चेंबूर में जिस जगह हादसा हुआ वहां संकरी गलियां हैं। यह कुछ ऊंचाई पर भी है। इसकी वजह से NDRF की टीम को वहां पहुंचने में मुश्किल आई। एंबुलेंस को तो बस्ती से कुछ बाहर ही खड़ा किया गया। राहत और बचाव के काम में स्थानीय लोगों की भी मदद ली गई। एक चश्मदीद ने बताया कि हादसा शनिवार रात 12:30 बजे हुआ। मलबे में बच्चे भी दबे थे। हमने कई लोगों को मलबे से निकाला और घायलों को रिक्शे से अस्पताल पहुंचाया।

लैंडस्लाइड के चलते मकानों को काफी नुकसान पहुंचा। दीवारें टूट गईं और घर के अंदर तक मलबा घुस आया।
लैंडस्लाइड के चलते मकानों को काफी नुकसान पहुंचा। दीवारें टूट गईं और घर के अंदर तक मलबा घुस आया।
मकानों पर पहाड़ गिरने से ईंट की दीवारें भी ढह गईं। तस्वीर में घर के ऊपर जमा मलबे को देखा जा सकता है।
मकानों पर पहाड़ गिरने से ईंट की दीवारें भी ढह गईं। तस्वीर में घर के ऊपर जमा मलबे को देखा जा सकता है।

मृतकों के परिजनों को PM ने 2 लाख, CM उद्धव ने 5 लाख देने की घोषणा की
हादसे में जान वालों के परिजनों को PMO ने PMNRF से 2-2 लाख रुपये देने की घोषणा की। घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे। वहीं, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये देने का ऐलान किया। साथ ही घायलों का मुफ्त इलाज करने का निर्देश दिया।

आदित्य ठाकरे घटनास्थल पर पहुंचे
राज्य के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि कल 200 मिमी से ज्यादा बारिश दर्ज हुई थी। घटना एक प्राकृतिक आपदा है। दीवार RCC की बनी थी लेकिन पानी के बहाव को रोक नहीं पाई। मुंबई में आवास संकट को हल करने की कोशिश कर रहे हैं।

यहां रहने वालों को शिफ्ट किया जाएगा: नवाब मलिक
महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि हम खतरनाक स्थिति में रह रहे लोगों को तत्काल स्थाई बस्तियों में शिफ्ट करने का फैसला करेंगे। BMC घटना की जांच करेगी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हादसे पर दुख जताया
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हादसे पर दुख जताया है। उन्होंने कहा कि इन हादसों में कई लोगों के हताहत होने की खबर से बुहत दुःख हुआ। शोक में डूबे परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर करता हूं। राहत और बचाव कार्य में सफलता की कामना करता हूं।

सड़कों पर पानी भरा

मुंबई के कई हिस्सों में पानी की सप्लाई रुकी
ग्रेटर मुंबई नगर निगम ने बताया कि मुंबई में भारी बारिश के कारण अधिकतर हिस्सों में पानी की सप्लाई रुक गई है। जलभराव के चलते भांडुप वाटर प्यूरिफिकेशन कॉम्प्लेक्स में फिल्ट्रैशन और ड्रेनैज प्लांट्स बंद कर दिए गए हैं। इसे ठीक करने की कोशिश जारी है।

चेंबूर, कांदिवली और बोरिवली पूर्व में बाढ़ जैसे हालात
मुंबई में गुरुवार रात से ही रुक-रुककर बारिश हो रही है। चेंबूर, कांदिवली और बोरिवली पूर्व में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। मौसम विभाग ने बारिश को लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। रविवार को सुबह से ही कई इलाकों में बारिश हो रही है। आज दिन भर यहां मध्यम से लेकर भारी बारिश हो सकती है।

भारी बारिश की वजह से 17 ट्रेनों की आवाजाही प्रभावित
पश्चिम रेलवे ने बताया है कि भारी बारिश के चलते मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में रेल की पटरियों पर पानी जमा हो गया है। इससे 17 ट्रेनों का आवाजाही प्रभावित हुई है। जलभराव वाले इलाकों में पंप से पानी हटाने का काम जारी है। सायन रेलवे स्टेशन के रेल ट्रैक पर पानी भर गया। आज लोकल से आवाजाही भी प्रभावित रहेगी। वहीं, किंग सर्कल पर भी जलभराव हो गया। कांदिवली ईस्ट के हनुमान नगर में भारी बारिश से बुरा हाल है। यहां लोगों के किचन तक बारिश का पानी पहुंच गया है। ग्राउंड फ्लोर पर रहना मुश्किल हो गया है।

सायन रेलवे स्टेशन की पटरियों पर भरा पानी

दिल्ली में कई जगहों पर आज भारी बारिश का अनुमान
देश के कई हिस्सों में इन दिनों बारिश हो रही है। IMD ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में छिटपुट स्थानों में भारी बारिश की आशंका जताई थी। इस दौरान यहां तेज बारिश हुई। शहर में मंगलवार को मानसून की पहली बारिश हुई। राष्ट्रीय राजधानी में मानसून आम तौर पर 27 जून तक आता है लेकिन इस बार यह 16 दिन की देरी से आया है।

खबरें और भी हैं...