• Hindi News
  • National
  • Mayawati's 6 MLAs Met Akhilesh Yadav, Four Leaders Are Also In Touch With The Ruling BJP

बसपा में आई दरार:मायावती के 6 विधायक अखिलेश यादव से मिले, चार नेता भी सत्ताधारी भाजपा के संपर्क में हैं

लखनऊ4 महीने पहलेलेखक: विजय उपाध्याय
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी (बसपा) में आई दरारों ने समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के लिए आस जगा दी है। इसका एक कारण स्पष्ट है कि बसपा के पास अगले चुनाव के लिए जाने-पहचाने चेहरों का टोटा पड़ सकता है। सूत्र बताते हैं कि बसपा के मौजूदा 4 विधायक सत्ताधारी भाजपा के संपर्क में हैं। जबकि छह अन्य विधायक सपा नेता अखिलेश यादव से मुलाकात कर ही चुके हैं।

सूत्रों की मानें तो बसपा की इस उठापटक से भाजपा और सपा, दोनों को अपना फायदा दिख रहा है। क्योंकि, बसपा विधायकों के साथ दलित वोट भी उनके पास आ सकते हैं। दूसरी तरफ, मायावती के सामने नए समीकरणों में पार्टी को ढालने की चुनौती है।

प्रदेश के पूर्व संसदीय कार्यमंत्री लालजी वर्मा व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रामअचल राजभर के निष्कासन के बाद बसपा में मझोले नेताओं की कमी हो गई है। वहीं, अखिलेश से मुलाकात करने वाले विधायकों में शामिल असलम राइनी ने दावा किया कि उनके साथ निष्कासित और निलंबित 11 विधायक हैं।

ये सभी मिलकर निष्कासित विधायक लालजी वर्मा के नेतृत्व में अलग दल का गठन करेंगे। हालांकि लालजी वर्मा ने ऐसे किसी दावे से इंकार किया है। अखिलेश से मिलने वाले विधायकों में से चार ने पिछले साल नवंबर में राज्यसभा चुनाव के दौरान ही विद्रोह कर दिया था। लालजी वर्मा व रामअचल राजभर के निष्कासन की सूचना विधानसभा को दे दी गई है।

खबरें और भी हैं...