• Hindi News
  • National
  • Mizoram Population; Robert Romawia | Minister Robert Romawia Royte Announced Cash Prize Of Rs One Lakh

11 लाख आबादी वाले मिजोरम के मंत्री का ऐलान:सबसे ज्यादा बच्चे पैदा करने पर मिलेंगे 1 लाख रुपए; यहां हफ्ते भर पहले ही हुई है 89 बच्चों के पिता की मौत

आइजोलएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मिजोरम की जनसंख्या का घनत्व 52 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। - Dainik Bhaskar
मिजोरम की जनसंख्या का घनत्व 52 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है।

देशभर में लोग बढ़ती आबादी और कम होते संसाधनों को लेकर चिंतिंत हैं। जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग हो रही है। इस बीच मिजोरम के खेल मंत्री ने ज्यादा बच्चे पैदा करने पर 1 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

मंत्री रॉबर्ट रॉयटे ने फादर्स डे पर ये बयान दिया है। हालांकि, उन्होंने यह साफ नहीं किया है कि कितने बच्चे होने पर इनाम दिया जाएगा। 54 साल के रायटे की 3 बेटियां और 1 बेटा है। उन्होंने ये बयान मिजो समुदाय के लोगों को जनसंख्या बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करने दिया है।

उत्तर पूर्वी राज्य मिजोरम की आबादी 11.2 लाख है। यहां जनसंख्या का घनत्व 52 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। इसके उलट देश का औसत 382 व्यक्ति प्रति वर्ग किलोमीटर है। इनाम की राशि नॉर्थ ईस्ट कंसल्टेंसी सर्विसेज (NECS) की तरफ से दी जाएगी। यह एक संगठन है, जो आइजोल फुटबॉक क्लब (AFC) को स्पॉन्सर करता है। रॉयटे AFC के मालिक हैं।

मंत्री रॉबर्ट रॉयटे मिजो जनजाति की घटती आबादी को लेकर पहले भी चिंता जाहिर कर चुके हैं।
मंत्री रॉबर्ट रॉयटे मिजो जनजाति की घटती आबादी को लेकर पहले भी चिंता जाहिर कर चुके हैं।

मिजोरम भारत का पहला राज्य है, जिसने खेल को उद्योग का दर्जा दिया हुआ है। इसका उद्देश्य इंवेस्टमेंट को आकर्षित करना है। रायटे ने ज्यादा बच्चे पैदा करने वाले व्यक्ति को एक प्रमाण पत्र देने की भी घोषण की है।

मिजो आबादी की घटती आबादी से चिंतिंत हैं रॉयटे
खेल मंत्री पहले भी मिजो आबादी की घटती जनसंख्या पर चिंता जता चुके हैं। मिजो जनसंख्या में बांझपन की दर भी काफी ज्यादा है। मिजोरम में 2018 में हुए विधानसभा चुनावों से पहले मिजो नेशनल फ्रंट के रॉयटे ने कहा था कि कम आबादी जनजातियों की प्रगति में बाधा है।

38 पत्नियों वाले पति की मौत के बाद किया ऐलान
रॉयटे का बयान दुनिया के सबसे बड़े परिवार (167 लोग) के मुखिया जिओना चाना के परिवार की मौत के हफ्ते भर बाद आया है। उनकी मौत 13 जून को आइजोल त्रिनिटी अस्पताल में हुआ था। वे 76 साल के थे। पेशे से बढ़ई चाना की 38 पत्नियां और 89 बच्चे हैं। मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने भी चाना के लिए सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखी थी। उन्होंने लिखा था कि मिजोरम और उनका गांव बकटावंग तलंगनुम, इस परिवार के कारण टूरिस्ट अट्रैक्शन बन गया था।

अपनी जनजाति के नेता थे चाना
चाना पावल संप्रदाय के नेता हैं। उनके पिता ने इस संप्रदाय का गठन किया था। संप्रदाय में 433 परिवार और 2,500 से ज्यादा लोग शामिल हैं। संप्रदाय के लोगों का कहना है कि जब तक मौत कंफर्म नहीं हो जाती, अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...