• Hindi News
  • National
  • Mobile Recharge Validity Update; Telecom Regulatory Orders To Telecom Companies

TRAI का टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश:प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों को 28 की जगह 30 दिनों की रिचार्ज वैलिडिटी देनी होगी

नई दिल्ली5 महीने पहले

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों के हक में बड़ा फैसला किया है। TRAI ने शुक्रवार को सभी टेलीकॉम कंपनियों को मोबाइल रिचार्ज की वैलिडिटी 28 दिन की बजाय 30 दिन देने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही टेलीकॉम कंपनी को अपने प्लान में अब एक स्पेशल वाउचर, एक कॉम्बो वाउचर पूरे महीने की वैलिडिटी के साथ रखना होगा।

बता दें कि टेलीकॉम कंपनियों के मौजूदा प्लान में 28 दिन की वैलिडिटी होती है, जिसकी वजह से कस्टमर्स को एक साल में 13 बार मंथली रिचार्ज कराना होता है। ट्राई के इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि ग्राहकों की ओर से एक साल में कराए गए रिचार्ज की संख्या में कमी आएगी। ऐसा होने से ग्राहकों के एक महीने के एक्स्ट्रा रीचार्ज के पैसे बचेंगे।

60 दिनों के अंदर लाना होगा प्लान
TRAI ने टेलीकॉम कंपनियों के लिए एक नोटिफिकेशन जारी की है। इसके मुताबिक सभी टेलीकॉम कंपनियों को कम से कम एक प्लान वाउचर, एक खास टैरिफ वाउचर और एक कॉम्बो वाउचर लाना होगा, जिसकी वैलिडिटी 30 दिनों की होनी चाहिए। इसके अलावा कंपनियों को नोटिफिकेशन की तारीख से 60 दिनों के अंदर नियमों के आदेश का पालन करने को कहा गया है।

मौजूदा प्लान को लेकर ट्राई को मिल रही थी शिकायतें
टेलीकॉम कंपनियों के मौजूदा प्लान को लेकर ट्राई को लगातार कस्टमर्स की शिकायतें मिल रही थीं। कस्टमर्स का आरोप था कि मौजूदा टेलीकॉम कंपनियों की टैरिफ की कीमत लगातार बढ़ रही है, लेकिन वैलिडिटी घट रही है। ऐसे में हर साल उन्हें एक्स्ट्रा रीचार्ज करवाना पड़ता है। अगर वैलिडिटी दो दिन बढ़ा दी जाएगी तो उन्हें राहत मिलेगी।

रिलायंस और एयरटेल के कस्टमर्स बढ़े
ट्राई ने अपने बयान में कहा है कि पिछले साल नवंबर 2021 के अंत तक मोबाइल कस्टमर्स की संख्या बढ़कर 119 करोड़ हो गई है। इस दौरान रिलायंस जियो और एयरटेल के कस्टमर्स की संख्या में काफी बढ़ोतरी देखी गई है। एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल अक्टूबर में रिलायंस जियो ने 17.6 लाख कस्टमर्स जोड़े, जिसके बाद उसके कुल कस्टमर्स की संख्या 42.65 करोड़ के करीब रही।

वहीं, एयरटेल के कस्टमर्स में 4.89 लाख की कमी देखी गई जिसके बाद इसके कुल कस्टमर्स की संख्या 35.39 तक जा पहुंची। जबकि वोडाफोन-आईडिया के 9.64 लाख कस्टमर्स की कमी के बाद इसके कुल ग्राहकों की संख्या 26.90 करोड़ हो गई है।