महाराष्ट्र / शाह ने कहा- 2024 तक घुसपैठिये देश से बाहर होंगे, सियासी फायदे के लिए कांग्रेस ने एनआरसी का विरोध किया



Modi government will remove intruders by 2024: Shah
X
Modi government will remove intruders by 2024: Shah

  • राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के विरोध पर गृहमंत्री ने कांग्रेस और एनसीपी पर साधा निशाना
  • अमित शाह बोले- राहुल गांधी और पाकिस्तान एक जैसी भाषा बोलते हैं, हमें राजनीति से ज्यादा देश की चिंता

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 02:00 AM IST

उस्मानाबाद. गृहमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि मोदी सरकार 2024 तक घुसपैठियों को देश से बाहर कर देगी। शाह ने कांग्रेस और नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) पर राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनआरसी) के विरोध का आरोप भी लगाया।

 

एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, "हम घुसपैठियों को बाहर करने के लिए एनआरसी लागू करना चाहते हैं, लेकिन कांग्रेस और एनसीपी इसका विरोध करती हैं। जब वो वोट मांगने आएं, तो उनसे पूछिए कि वो घुसपैठियों का बचाव क्यों करते हैं? मोदी सरकार 2024 तक हर घुसपैठिए को बाहर कर देगी।"

 

हमें राजनीति से ज्यादा देश के भविष्य की चिंता: शाह
शाह ने कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अपने नापाक मंसूबे पूरे करने के लिए धारा 370 का सहारा ले रहा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दूसरी बार सत्ता संभालने के बाद कुछ दिनों में ही इसको हटा दिया। उन्होंने कहा कि सूबे में 40 हजार से ज्यादा लोग हिंसा में जान गंवा चुके हैं। शाह ने आगे कहा, "हमें राजनीति से ज्यादा देश के भविष्य की चिंता है। कांग्रेस राष्ट्रवाद की बजाय वोट बैंक की राजनीति करती है। प्रधानमंत्री मोदी ने देश के मुकुट को मुख्यधारा मे लाने और देश का अभिन्न हिस्सा बनाने का काम किया है।"

 

कांग्रेस और एनसीपी पर परिवारवाद को बढ़ावा देने का आरोप
कांग्रेस और एनसीपी पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए शाह ने कहा कि एक तरफ महाराष्ट्र में अपने परिवार को आगे बढ़ाने वाली पार्टी है, तो दूसरी तरफ एक पार्टी है, जो देश को बेहतर और सुरक्षित बनाने का काम कर रही है।

 

'कांग्रेस-एनसीपी ने सियासी फायदे के लिए 370 हटाने का विरोध किया'
शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और एनसीपी सियासी फायदे के लिए धारा 370 हटाने का समर्थन नहीं करती हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की विदेश यात्रा पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा, "राहुल विदेश से आए हैं। उन्हें यहां की गर्मी पसंद नहीं है, इसलिए वो बार-बार विदेश जाते रहते हैं।" उन्होंने राहुल और पाकिस्तान पर एक ही भाषा बोलने का आरोप भी लगाया।

 

चुनावी सभा में शाह ने कहा, "राहुल गांधी और पाकिस्तान के लोग ही सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगते हैं। पाकिस्तान की तरह राहुल गांधी भी 370 और 35ए हटाने का विरोध करते हैं। मुझे समझ नहीं आता कि राहुल गांधी और पाकिस्तान एक जैसी भाषा क्यों बोलते हैं?"

 

प्रधानमंत्री मोदी के विदेश दौरों को लेकर कांग्रेस की आलोचना पर शाह ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी की तुलना में ज्यादा दौरे किए हैं। उन्होंने 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम का जिक्र करते हुए कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोलाल्ड ट्रंप तक ने मोदी को लोकप्रिय नेता बताया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना