• Hindi News
  • National
  • Gopal Bhargav On MP Kamal Nath Government, Says Will Fall MP Govt In 24 Hours; Madhya Pradesh Politics News [UPDATES]

मप्र / गोपाल भार्गव ने सरकार गिराने की चेतावनी दी और भाजपा के दो विधायकों ने सरकारी बिल के पक्ष में वोट दे दिया

भाजपा नेता गोपाल भार्गव और मुख्यमंत्री कमलनाथ (दाएं)।
Gopal Bhargav On MP Kamal Nath Government, Says Will Fall MP Govt In 24 Hours; Madhya Pradesh Politics News [UPDATES]
X
Gopal Bhargav On MP Kamal Nath Government, Says Will Fall MP Govt In 24 Hours; Madhya Pradesh Politics News [UPDATES]

  • नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा- आदेश मिला तो 24 घंटे के भीतर सरकार गिरा देंगे
  • मुख्यमंत्री कमलनाथ का जवाब- आपके नंबर 1 और नंबर 2 समझदार हैं इसलिए आदेश नहीं दिया
  • 230 सीटों वाली मध्य प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस के 114 और भाजपा के 108 विधायक, बहुमत का आंकड़ा 116

दैनिक भास्कर

Jul 24, 2019, 09:01 PM IST

भोपाल. कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार गिरने के बाद मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कमलनाथ सरकार गिराने की चेतावनी दी। उन्होंने बुधवार को विधानसभा में कहा कि अगर हमारे ऊपर वाले नंबर 1 और 2 का आदेश हुआ तो कांग्रेस सरकार 24 घंटे भी नहीं चलेगी। भाजपा नेता के बयान पर सदन में हंगामा हुआ। हालांकि, इसके कुछ घंटे बाद ही सदन में सदन में दंड विधि विधेयक पर वोटिंग हुई। कमलनाथ ने कहा कि हमारे पक्ष में भाजपा के दो विधायकों ने वोटिंग की।

 

नाथ ने दावा किया कि मैहर से भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी और शहडोल के ब्यौहारी विधानसभा से शरद कोल ने हमारे पक्ष में वोट डाले। वोटिंग के बाद मंत्री पीसी शर्मा ने दावा किया कि भाजपा के और विधायक भी मुख्यमंत्री कमलनाथ के संपर्क में हैं।

 

विधेयक की वोटिंग से साफ हुआ, हमारी सरकार अल्पमत में नहीं- नाथ
वोटिंग के बाद सदन की कार्रवाई अनिश्चितकाल के लिए स्‍थगित कर दी गई। कमलनाथ ने कहा कि मुझे ये बात साबित करनी थी कि ये सरकार अल्पमत में नहीं थी और आज विधेयक के पक्ष में हुई वोटिंग से ये साफ हो गया है। इतना ही नहीं बसपा, सपा और निर्दलीय विधायक भी हमारे साथ हैं। इससे पहले सीएम ने कहा- राजनीतिक जीवन में मेरे ऊपर कोई दाग नहीं है। यहां बैठे हमारे विधायक बिकाऊ नहीं हैं। क्रॉस वोटिंग करने वाले शरद त्रिपाठी ने कहा कि, मेरी घर वापसी हुई है। 

 

हमने मत विभाजन की मांग ही नहीं की थी, हम समर्थन करना चाहते थे- भार्गव
नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा- हमने विधेयक पर मत विभाजन की मांग नहीं की थी। ये मांग बसपा विधायक ने की, जो पहले से ही कांग्रेस के साथ थे। विधेयक पर हम सरकार का समर्थन करना चाहते थे। मत विभाजन की स्थिति जानबूझकर सदन में पैदा की गई। अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने कहा कि है कि विधायकों के दलबदल की जानकारी उनके पास नहीं आई है। जब आएगी तो कानून सम्मत कार्रवाई की जाएगी। 

 

भार्गव ने कहा- कर्नाटक से चली हवा मध्य प्रदेश तक पहुंचेगी

भाजपा नेता कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार गिरने के बाद सुबह से ही मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस सरकार की उल्टी गिनती शुरू होने को लेकर बयान दे रहे थे। विधानसभा के बाहर गोपाल भार्गव ने कहा था कि कर्नाटक से चली हवा अब मध्य प्रदेश तक पहुंचेगी। प्रदेश में लूट-खसोट का माहौल है। जल्द ही मध्य प्रदेश में भी कांग्रेस सरकार का पिंडदान होने वाला है।

 

मध्य प्रदेश विधानसभा में दलीय स्थिति

 

पार्टी विधायक
कांग्रेस 114
भाजपा 108
बसपा 2
सपा 1
निर्दलीय 4
रिक्त 1

 

कुल सीट: 230

बहुमत के लिए: 116

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना