• Hindi News
  • National
  • Mumbai MNS Worker Gundagardi VIDEO Footage; BJP Demands Action | Navi Mumbai

मराठी गाना नहीं बजाने पर होटल मैनेजर की पिटाई, VIDEO:मुंबई में MNS कार्यकर्ताओं ने मारे थप्पड़

मुंबई6 दिन पहले

मुंबई में MNS कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है। यहां एक होटल में मराठी गाने नहीं बजाने को लेकर MNS कार्यकर्ता ने होटल के मैनेजर को थप्पड़ मार दिया। घटना बुधवार रात नवी मुंबई के वाशी इलाके की है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई अभी तक नहीं की है। भाजपा ने कार्रवाई की मांग की है।

मराठी गाने नहीं बजाने को लेकर हुआ विवाद
घटना का वीडियो भी सामने आया है। इसमें MNS के कुछ कार्यकर्ता होटल द टेस्ट ऑफ पंजाब में एंटर होते हैं। एक महिला कार्यकर्ता मैनेजर से बोलती है कि रजिस्टर में मराठी गानों पर पार्टी की बुकिंग दिखाइए। होटल मैनेजर ने मना कर दिया। उनका कहना था कि वे सिर्फ बुकिंग करने वाले को ही लिस्ट दिखाएंगे।

MNS कार्यकर्ताओं में से एक ने कहा कि हम महाराष्ट्र में हैं और केवल मराठी गाने बजाए जाएंगे, लेकिन मैनेजर ने कहा कि यहां सिर्फ हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी गाने ही बजेंगे। इस पर दोनों पक्षों के बीच बहस शुरू हो जाती है। फिर MNS कार्यकर्ता मैनेजर को थप्पड़ मार देता है।

MNS कार्यकर्ता और होटल मैनेजर के बीच मारपीट कैमरे में कैद हो गई।
MNS कार्यकर्ता और होटल मैनेजर के बीच मारपीट कैमरे में कैद हो गई।

भाजपा बोली- हम गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे
मामला ने तूल पकड़ा तो भाजपा ने MNS पर निशाना साधा। भाजपा विधायक राम कदम ने कहा- हम किसी भी तरह की गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे, चाहे वह किसी भी पार्टी का कार्यकर्ता या नेता हो। उन्होंने कहा कि कानून अपना काम करेगा। हम किसी को भी कानून अपने हाथ में नहीं लेने देंगे। यह उद्धव ठाकरे की सरकार नहीं है, राज्य को एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस चला रहे हैं। हम इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे।

NCP नेता ने फिल्म हर हर महादेव की स्क्रीनिंग रुकवाई थी

कुछ दिन पहले NCP नेता जितेंद्र आव्हाड पर एक महिला से छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगा था।
कुछ दिन पहले NCP नेता जितेंद्र आव्हाड पर एक महिला से छेड़छाड़ करने का भी आरोप लगा था।

हाल ही में पूर्व कैबिनेट मंत्री और NCP नेता जितेंद्र आव्हाड को पुलिस ने मराठी फिल्म की स्क्रीनिंग रुकवाने और एक व्यक्ति को पीटने के आरोप में गिरफ्तार किया था। जानकारी के मुताबिक वे अपने समर्थकों के साथ ठाणे के एक मॉल में घुस गए और मराठी फिल्म- हर हर महादेव की स्क्रीनिंग को जबरन रुकवा दिया था। एक शख्स ने विरोध किया तो उसके साथ मारपीट भी की थी। बाद में मुंबई की एक अदालत ने उन्हें जमानत दे दी थी।