• Hindi News
  • National
  • NDRF evacuates many areas due to super cyclone Amfan waves 15 feet high in the sea

बंगाल से ग्राउंड रिपोर्ट / सुपर साइक्लोन अम्फान की वजह से समंदर में 15 फीट ऊंची लहरें, एनडीआरएफ ने कई इलाके खाली कराए

इस सुपर साइक्लोन ने पूर्व और पश्चिमी मेदिनीपुर, उत्तर और दक्षिणी 24 परगना, कोलकाता के तटीय इलाकों को प्रभावित किया है। इस सुपर साइक्लोन ने पूर्व और पश्चिमी मेदिनीपुर, उत्तर और दक्षिणी 24 परगना, कोलकाता के तटीय इलाकों को प्रभावित किया है।
X
इस सुपर साइक्लोन ने पूर्व और पश्चिमी मेदिनीपुर, उत्तर और दक्षिणी 24 परगना, कोलकाता के तटीय इलाकों को प्रभावित किया है।इस सुपर साइक्लोन ने पूर्व और पश्चिमी मेदिनीपुर, उत्तर और दक्षिणी 24 परगना, कोलकाता के तटीय इलाकों को प्रभावित किया है।

  • एनडीआरएफ के प्रमुख ने बताया कि 41 टीमें बंगाल में तैनात की गई हैं
  • उन्होंने कहा- पहली बार हमारे फोर्स को डबल चैलेंज से गुजरना पड़ रहा है

भोलानाथ साहा

May 20, 2020, 09:11 PM IST

कोलकाता. सुपर साइक्लोन अम्फान बुधवार को बंगाल से टकरा गया। अब इस तूफान के दक्षिण 24 परगना जिले के सुंदरबन तक पहुंचने की संभावना है। बंगाल का सुंदरबन इलाका मैन्ग्रोव जंगलों के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है। एनडीआरएफ के प्रमुख एसएन प्रधान के मुताबिक, इस सुपर साइक्लोन ने पूर्व और पश्चिमी मेदिनीपुर, उत्तर और दक्षिणी 24 परगना, कोलकाता के तटीय इलाकों को प्रभावित किया है। यहां से लगभग 5 लाख लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है।

एनडीआरएफ के प्रमुख ने बताया कि 41 टीमें बंगाल में तैनात की गई हैं। पहली बार ऐसा हुआ है, जब हमारे फोर्स को डबल चैलेंज से गुजरना पड़ रहा है। कोरोना वायरस के साथ-साथ इस आपदा से लोगों को बचाना हमारे लिए सबसे बड़ा चैलेंज है।

मिदनापुर जिले के दीघा के रहने वाले शैलेंद्र दास बताते हैं कि समुद्र अपने पूरे उफान पर है। करीब 15 फीट की ऊंचाई तक लहरें उठ रही हैं। दक्षिण 24 परगना जिले के बगखाली के रहने वाले प्रशांत मालिक कहते हैं कि पूरे इलाके को एनडीआरएफ और प्रशासन ने खाली करा लिया है। कुदरत का कहर नजर आ रहा है। तेज बारिश और लगभग 150 किलोमीटर प्रति घंटे की हवाओं के साथ तूफान ने तबाही मचा रखी है। लोग अपने घरों में ना रहकर रिलीफ कैम्प में जाने को मजबूर हैं। पूरे इलाके में बिजली गुल कर दी गई है।

कोलकाता एयरपोर्ट बंद किया गया
कोलकाता स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस इंटरनेशनल एयरपोर्ट के सूत्रों के मुताबिक, कोलकाता एयरपोर्ट को पूरी तरह से बुधवार शाम तक के लिए शटडाउन कर दिया गया है। यहां से सिर्फ कार्गो प्लेन उड़ाए जा रहे थे और विदेशों में फंसे भारतीयों को लेकर इक्का-दुक्का विमानों पहुंच रहे थे।

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य सरकार के सदर मुख्यालय नवान्न में बने कंट्रोल रूम में कमान संभाले हुए हैं। मुख्य सचिव राजीव सिन्हा, राज्य पुलिस के डीजी वीरेंद्र, एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ज्ञानवन्त सिंह, कोलकाता के पुलिस कमिश्नर अनुज शर्मा हालात पर नजर बनाए हुए हैं।

भारतीय मौसम विभाग के प्रमुख मृत्युंजय महापात्र बताते हैं कि सुपर साइक्लोन बंगाल और ओडिशा में आए पिछले कई चक्रवाती तूफानों से भयानक और तबाही मचाने वाला है। बंगाल के कई प्रभावित जिलों में सैकड़ों पेड़ों और कच्चे मकानों के गिरने, बिजली और रेल लाइनों के तार टूटने की खबर है। फसलें भी बर्बाद होने की आशंका है। इससे पहले 1999 में आए सुपर साइक्लोन की वजह से ओडिशा में 10 हजार लोगों की मौत हुई थी।

मिदनापुर जिले के दीघा के रहने वाले शैलेंद्र दास बताते हैं कि समुद्र उफान पर है। करीब 15 फीट की ऊंचाई तक लहरें उठ रही हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना