देश कोरोना अपडेट्स:24 घंटे में 3,451 नए मामले, 40 लोगों की मौत, दिल्ली में सबसे ज्यादा 1407 केस

नई दिल्ली16 दिन पहले

देश में पिछले 24 घंटे में 3,451 नए कोरोना केस मिले हैं, जबकि 40 लोगों की मौत हुई है। एक्टिव केस यानी इलाज करा रहे पेशेंट्स की संख्या बढ़कर 20,635 हो गई है। कोरोना से महामारी की शुरुआत से अब तक देश में कुल 5.24 लाख लोगों की मौत हुई है। शुक्रवार को 3350, गुरुवार को 3545 और बुधवार को 3,275 नए मामले सामने आए थे।

दिल्ली में 1407 नए मामले सामने आए जो शुक्रवार के मुकाबले तो कम हैं लेकिन 2 लोगों की मौत हुई है। राजधानी में पॉजिटिविटी रेट घटकर 4.72% हो गया है। एक दिन पहले दिल्ली में 1656 नए केस मिले थे और एक भी मौत नहीं हुई थी, जबकि पॉजिटिविटी रेट 5.39% था। देश में बीते दिन 3.60 लाख कोविड सैंपल टेस्ट किए गए हैं।

आगे बढ़ने से पहले नीचे दिए पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दे सकते हैं...

दिल्ली के बाद हरियाणा में सबसे ज्यादा मामले

दिल्ली के बाद हरियाणा और महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं।
दिल्ली के बाद हरियाणा और महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं।

दिल्ली के बाद हरियाणा और महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए है। हरियाणा में 473, केरल में 381 और महाराष्ट्र में 253 नए मामले दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र में एक मौत की पुष्टि हुई है। उत्तर प्रदेश में 264 नए मामले मिले हैं तो मध्यप्रदेश 27 और राजस्थान में 59 नए केस दर्ज किए गए। कोरोना से उत्तर प्रदेश में 1 मौत हुई है जबकि हरियाणा, मध्यप्रदेश और राजस्थान में एक भी मौत दर्ज नहीं हुई है।

देश में रिकवरी रेट 98.74%
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश के कुल संक्रमण में एक्टिव केस का हिस्सा 0.05% है। देश में रिकवरी रेट 98.74% है। वहीं डेली पॉजिटिविटी रेट 0.78% और वीकली पॉजिटिविटी रेट 0.79% दर्ज किया गया है।

वैक्सीनेशन अभियान के तहत देश में 190.20 करोड़ वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके हैं। अब तक केंद्र ने राज्यों को 193.53 करोड़ से अधिक डोज मुहैया कराई है।

WHO की रिपोर्ट पर भरोसा नहीं
यूनियन हेल्थ मिनिस्टर मनसुख मंडाविया ने कहा कि 3 दिन के स्वास्थ्य शिविर के दौरान हमने एक प्रस्ताव पारित किया कि हम WHO की कोविड से होने वाली मौत के अनुमान पर भरोसा नहीं करते हैं। हम 1969 से जन्म और मौत को कानूनी रूप से रजिस्टर कर रहे हैं।

प्रेग्नेंट महिला कोरोना का सॉफ्ट टारगेट
कोरोना का सॉफ्ट टारगेट प्रेग्नेंट महिलांए होती हैं लेकिन कोरोना संक्रमित महिलाओं से जन्म लेने वाले बच्चों का संक्रमित होना असामान्य बात है, यानी जरूरी नहीं की वो बच्चा भी कोरोना संक्रमित हो। इस खबर को पढ़ें