पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सांसों की बेरोकटोक आवाजाही:NHAI ने ऑक्सीजन टैंकरों को टोल टैक्स से छूट दी, MP सरकार ने एंबुलेंस का दर्जा दिया था

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन ले जाने वाले टैंकरों को टोल फ्री कर दिया है। अब देशभर में कहीं भी NHAI के टोल प्लाजा पर उनसे टोल नहीं लिया जाएगा। दिन-ब-दिन बढ़ती मेडिकल ऑक्सीजन की डिमांड और पहुंचने में देरी होने पर मरीजों को होने वाले नुकसान को देखते हुए ये फैसला लिया गया है।

इससे पहले मध्यप्रदेश सरकार ने ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों को एंबुलेंस का दर्जा देने की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि टैंकर को प्लांट से रवाना होने से लेकर अस्पताल तक पहुंचाने के दौरान पुलिस का वाहन उनके साथ रहेगा।

NHAI ने आदेश में क्या कहा?

  • ऑक्सीजन ले जाने वाले टैंकर्स को NHAI के किसी भी टोल प्लाजा पर आगामी आदेश तक टोल देने की जरूरत नहीं है।
  • मेडिकल ऑक्सीजन ले जाने वाले टैंकरों को भी दूसरे इमरजेंसी वाहनों की तरह सहूलियत मिलनी चाहिए।
  • ऑक्सीजन ले जाने वाले वाहनों को एंबुलेंस की तरह ट्रीटमेंट मिले। टैंकरों को ट्रैफिक से क्लियरेंस मिले।

फास्टैग सुविधा से बचता है समय
NHAI के टोल प्लाजा में फास्टैग सुविधा लागू होने के कारण वाहनों को टोल क्रॉस करने में समय नहीं लगता है, फिर भी आदेश में ऑक्सीजन ले जा रहे वाहनों को क्लियर रास्ता देने की बात कही गई है। आदेश की कॉपी NHAI से जुड़े सभी अधिकारियों और दूसरे स्टॉक होल्डर्स को दे दी गई है

17 राज्यों में रेलवे के आइसोलेशन कोच तैनात
भारतीय रेलवे ने शनिवार को बयान जारी कर कहा है कि 17 राज्यों में अब तक 298 आइसोलेशन कोच तैनात किए जा चुके हैं। इन कोच में 4,700 बेड की व्यवस्था है। इनमें से 60 कोच अकेले महाराष्ट्र के नंदुरबार में तैनात किए गए हैं। इनमें 116 कोरोना मरीजों का इलाज अब तक किया जा चुका है। 93 डिस्चार्ज भी हो चुके हैं। 42 कोच मध्यप्रदेश के रतलाम तो 20 भोपाल में तैनात हैं। 21 कोच असम के गुवाहाटी और 20 बदरपुर में तैनात हैं।

देश में कोरोना महामारी आंकड़ों में

  • बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए: 4.01 लाख
  • बीते 24 घंटे में कुल मौतें: 4,191
  • बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए: 3.19 लाख
  • अब तक कुल संक्रमित हो चुके: 2.18 करोड़
  • अब तक ठीक हुए: 1.79 करोड़
  • अब तक कुल मौतें: 2.38 लाख
  • अभी इलाज करा रहे मरीजों की कुल संख्या: 37.21 लाख
खबरें और भी हैं...