सीतारमण ने कहा- सूटकेस कुछ लेने-देने को दर्शाता है, मोदी सरकार ब्रीफकेस वाली नहीं

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • सीतारमण ने सूटकेस को कांग्रेस की पिछली सरकार से जोड़ा, इसे भ्रष्टाचार का प्रतीक बताया
  • उन्होंने कहा- ब्रीफकेस ब्रिटिश काल की परंपरा है, इसलिए उन्हें यह पसंद नहीं

चेन्नई. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को ब्रीफकेस को भ्रष्टाचार का प्रतीक बताया। उन्होंने कहा- सूटकेस में बजट लाने की परंपरा कांग्रेस की पिछली भ्रष्टाचार वाली सरकार की पहचान है। सूटकेस कुछ लेने-कुछ देने को दर्शाता है। मोदी जी की सरकार सूटकेस वाली सरकार नहीं है।

 

इस साल सीतारमण बजट को लाल कपड़े में लेकर संसद में पहुंची थीं। यह पहला मौका था, जब किसी वित्‍त मंत्री ने बजट दस्‍तावेज के लिए ब्रीफकेस के बजाए लाल कपड़े का इस्तेमाल किया था।

 

Union Finance Minister Nirmala Sitharaman in Chennai: For #Budget2019, I didn\'t carry a suitcase. We aren\'t a suitcase-carrying govt as suitcase also denotes something else, suitcase-taking, suitcase-giving. Modi ji’s govt is not suitcase govt. pic.twitter.com/w6V4e2Gp3t

— ANI (@ANI) July 20, 2019

इससे पहले वित्त मंत्री सीतारमण ने इंटरनेशनल बिजनेस कांन्फ्रेंस को संबोधित किया। उन्होंने कहा- मुझे ब्रीफकेस या सूटकेस पसंद नहीं हैं। यह प्रचलन ब्रिटिश काल से चला आ रहा है। इसलिए मैंने भारतीय परंपरा को प्रदर्शित करने वाले लाल कपड़े की शुरुआत की। सीतारमण ने पांच जुलाई को लोकसभा में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया था।