जासूसी मामले में एक्शन में NSO:इजराइली कंपनी कुछ क्लाइंट्स के खिलाफ जांच कर रही; कुछ सरकारी एजेंसियों के लिए पेगासस के इस्तेमाल पर रोक भी लगाई

नई दिल्ली4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पेगासस स्पायवेयर की मदद से जासूसी पर मचे बवाल के बीच इसे बनाने वाली इजराइली कंपनी NSO ग्रुप ने इसके इस्तेमाल के लिए कई सरकारी एजेंसियों पर रोक लगा दी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी कुछ क्लाइंट के खिलाफ जांच कर रही है और उनमें से कुछ को अस्थाई रूप से सस्पेंड कर दिया गया है।

कई सरकारी एजेंसियों के इस्तेमाल पर बैन?

  • अमेरिका की नेशनल पब्लिक रेडियो (NPR) ने एक रिपोर्ट के हवाले से बताया कि NSO ग्रुप में यह साफ नहीं किया है कि किन सरकारी एजेंसियों पर यह बैन लगाया है और यह बैन कब तक चलेगा।
  • कंपनी के कर्मचारी ने NPR को उन सरकारी एजेंसियों का नाम बताने से इनकार कर दिया जिन पर NSO ने अस्थाई रूप से बैन लगाया है। कंपनी की पॉलिसी के मुताबिक, वह अपने कस्टमर की पहचान उजागर नहीं कर सकती।

इजराइल में पेगासस के दफ्तर पर छापा
इस बीच इजरायली रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने जाजूसी सॉफ्टवेयर पेगासस बनाने वाली कंपनी NSO के तेल अवीव स्थित दफ्तर पर बुधवार को छापा मारा था। हालांकि बाद में कंपनी ने इसे निरीक्षण बताया। वहीं इजरायली रक्षा मंत्री बेनी गेंट्ज ने भी फ्रांस दौर पर वहां की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले से पेगासस पर चर्चा की है।

इस मीटिंग में गेंट्स ने कहा कि पेगासस से जासूसी के आरोपों को गंभीरता से ले रहे हैं। आरोप है कि इजरायली कंपनी NSO ग्रुप के स्पाइवेयर पेगासस का इस्तेमाल फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की जासूसी के लिए भी हुआ था।