पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • On This Day, Lord Shiva, Gautama Buddha And Lord Mahavira Became The First Guru, Also Gave The First Sermon.

गुरु पूर्णिमा:आज ही के दिन भगवान शिव, गौतम बुद्ध और भगवान महावीर प्रथम गुरु बने, पहला उपदेश भी दिया

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करीब 2600 साल पहले तथागत बुद्ध ने आषाढ़ी पूर्णिमा के दिन सारनाथ में पांच भिक्षुओं को धर्म का पहला उपदेश दिया।
  • सदगुरु शिव ने 15000 वर्षों से भी पहले गुरु पूर्णिमा के दिन सप्तऋषियों को पहला शिष्य बनाया और उन्हें योगिक विज्ञान की शिक्षा दी
  • करीब 2600 साल पहले तथागत बुद्ध ने आषाढ़ी पूर्णिमा के दिन सारनाथ में पांच भिक्षुओं को धर्म का पहला उपदेश दिया था

शिव को आदि गुरु कहा जाता है। 15000 वर्षों से भी पहले गुरु पूर्णिमा के दिन सप्तऋषियों को पहला शिष्य बनाया और उन्हें योगिक विज्ञान की शिक्षा दी। पहलेे उपदेश में कहा- आपकी क्षमता वर्तमान से बहुत आगे बढ़ने की है। सप्तऋषि इस ज्ञान को लेकर पूरी दुनिया में गए। धरती की हर आध्यात्मिक प्रक्रिया के मूल में शिव का ज्ञान है।

दलाई लामा: बुद्ध ने 5 भिक्षुओं को धर्म उपदेश दिया
करीब 2600 साल पहले तथागत बुद्ध ने आषाढ़ी पूर्णिमा के दिन सारनाथ में पांच भिक्षुओं को धर्म का पहला उपदेश दिया। इसे ‘प्रथम धर्मचक्र प्रवर्तन’ कहते हैं। गुरु पूर्णिमा को बौद्ध ‘संघ दिवस’ कहा जाता है। बुद्ध ने उपदेश में चार आर्य सत्यों के बारे में बताया था। ये हैं- दुख है, दुख का कारण है, दुख का निदान है, निदान का मार्ग निर्वाण है।

आचार्य विद्यासागरजी: महावीर ने 5 यम बताए
जैन धर्म में आज का दिन त्रिनोक गुहा पूर्णिमा कहलाता है। 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर को ही ‘त्रिनोक गुहा’ यानी प्रथम गुरु भी माना गया है। भगवान महावीर ने इसी दिन इंद्रभुति गौतम को अपना पहला शिष्य बनाया। उन्होंने पहले उपदेश में 5 यम- अहिंसा, सत्य, अपरिग्रह, अचौर्य (अस्तेय) और ब्रह्मचर्य काे जीवन का मार्ग बताया।  

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें