• Hindi News
  • National
  • One Case Changed The Direction Of The Entire Agency Within 15 Months After The Death Of Sushant Singh, NCB Registered 129 Cases, 279 People Arrested

एक केस ने पूरी एजेंसी की दशा-दिशा बदली:सुशांत सिंह की मौत के 15 माह के अंदर NCB ने 129 केस दर्ज किए, 279 लोग गिरफ्तार

23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
NCB के काम करने के तरीकों पर सवाल भी उठे हैं। - Dainik Bhaskar
NCB के काम करने के तरीकों पर सवाल भी उठे हैं।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) पिछले 15 महीनों से सुर्खियों में है। 14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद अगस्त 2020 में इस केस की जांच ड्रग्स के एंगल से शुरू हुई और वहीं से NCB के तेवर बदल गए। 2017, 2018 और 2019 यानी तीन साल में जिस एजेंसी ने कुल मिलाकर सिर्फ 90 केस दर्ज किए थे और 143 लोगों को गिरफ्तार किया था।

उसी एजेंसी ने जून 2020 से सितंबर 2021 तक 15 महीनों में ही 129 केस दर्ज कर डाले और 279 गिरफ्तारियां कीं। चौंकाने वाली बात ये है कि इस दौरान दीपिका पादुकोण, श्रद्धा, करण जौहर, अर्जुन रामपाल जैसे कई नामचीन चेहरों पर भी शिकंजा कसा। हालांकि, NCB के काम करने के तरीकों पर सवाल भी उठे।

नियम कहता है...

चरस-गांजा-हेरोइन जैसे 237 तरह के नशीले पदार्थ बेचना-खरीदना-रखना-खेती करना-उत्पादन और सेवन करना... सब गैरकानूनी।

दीपिका, करण जौहर समेत 12 हस्तियों तक पहुंची एनसीबी; 11 से पूछताछ, 8 को क्लीनचिट, 3 रडार पर

..और इधर 21 हजार करोड़ रु. की 3000 किलो हेरोइन किसकी? सुराग तक नहीं
मुंबई में फिल्मी हस्तियों से 10-20 ग्राम ड्रग्स पकड़ने वाली NCB को देश की सबसे बड़ी नशे की खेप की भनक तक नहीं लगी। 16 सितंबर 21 को गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर DRI ने 21 हजार करोड़ रु. की 3 हजार किलो हेरोइन पकड़ ली। फिलहाल इस मामले की जांच जारी है। अभी तक यह पता नहीं चला कि ये किसकी है? इसे लेकर सियासत भी गर्म है। 18 महीने से NCB में पूर्णकालिक डायरेक्टर की नियुक्ति न होने पर भी सवाल उठते रहे हैं।