• Hindi News
  • National
  • P Chidambaram Bail: BJP Sambit Patra, Rahul Gandhi Reaction After former Finance Minister P Chidambaram Gets Bail in INX Media case

चिदंबरम को जमानत / भाजपा ने कहा- आखिरकार बेल पर बाहर रहने वालों के क्लब में शामिल हो गए, राहुल बोले- बदले की नीयत से कैद रखा

चेन्नई में बुधवार को समर्थकों ने चिदंबरम की रिहाई का जश्न मनाया। पटाखों के शोर से बचने के लिए पुलिसवाले ने कान बंद कर लिए। चेन्नई में बुधवार को समर्थकों ने चिदंबरम की रिहाई का जश्न मनाया। पटाखों के शोर से बचने के लिए पुलिसवाले ने कान बंद कर लिए।
X
चेन्नई में बुधवार को समर्थकों ने चिदंबरम की रिहाई का जश्न मनाया। पटाखों के शोर से बचने के लिए पुलिसवाले ने कान बंद कर लिए।चेन्नई में बुधवार को समर्थकों ने चिदंबरम की रिहाई का जश्न मनाया। पटाखों के शोर से बचने के लिए पुलिसवाले ने कान बंद कर लिए।

  • आईएनएक्स मीडिया घोटाले के आरोपी चिदंबरम को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिली
  • सुप्रीम कोर्ट के निर्देश- चिदंबरम देश छोड़कर नहीं जा सकते, सबूतों को प्रभावित नहीं करेंगे और ना इंटरव्यू देंगे
  • नितिन गडकरी ने कहा- चिदंबरम जब गृह मंत्री थे, तब उन्होंने पहला झूठा केस मेरे खिलाफ किया था 

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 06:33 PM IST

नई दिल्ली. आईएनएक्स मीडिया घोटाले में आरोपी पी चिदंबरम को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जमानत मिलने के बाद भाजपा ने बुधवार को तंज कसा। भाजपा नेता संबित पात्रा ने कहा कि चिदंबरम आखिरकार बेल पर बाहर रहने वालों के क्लब में शामिल हो गए। संबित ने इसे आउट ऑन बेल क्लब (ओओबीसी) नाम दिया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि चिदंबरम को इतने दिन तक कैद रखने के पीछे बदले की नीयत थी। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम को जमानत दी है, इस बात की मुझे खुशी है और मुझे पूरा विश्वास है कि वे अपनी बेगुनाही साबित करेंगे।

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को चिदंबरम दी और शर्त रखी कि वे किसी भी तरह से गवाहों और सबूतों को प्रभावित नहीं करेंगे। वे इस मामले में मीडिया में कोई बयान और इंटरव्यू भी नहीं दे सकते। चिदंबरम कोर्ट के आदेश के बिना देश से बाहर नहीं जा सकते हैं। उन्हें बेल बॉन्ड के रूप में 2 लाख रुपए जमा कराने होंगे।

हमने बदले की भावना से कभी कार्रवाई नहीं की- गडकरी
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा- चिदंबरम के खिलाफ जो केस दर्ज किए गए, उसमें उनके खिलाफ सबूत थे। इनकी जांच हुई थी। अब यह मामला कोर्ट में है और वह फैसला लेगी। हमने कभी भी बदले की भावना से कार्रवाई नहीं की। लेकिन, जब चिदंबरम कांग्रेस के शासन में गृह मंत्री थे, तब उन्होंने पहला झूठा केस मेरे खिलाफ किया था। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के खिलाफ भी झूठा केस किया था। बाद में हम सभी निर्दोष साबित हुए थे।

मोदी ने चुनाव में जमानत पर बाहर रहने वाले कांग्रेस नेताओं का जिक्र किया था
इसी साल लोकसभा चुनाव से ठीक पहले नरेंद्र मोदी ने एक ब्लॉग लिखा था। इसमें उन्होंने लिखा था कि कांग्रेस के मौजूदा आला नेता किसी ना किसी घोटाले में जमानत पर बाहर हैं। पिछले साल राजस्थान विधानसभा चुनाव से पहले मोदी ने कहा था कि कुछ लोग अब कांग्रेस को "बेल गाड़ी' कहने लगे हैं, क्योंकि उनके वरिष्ठ नेता जमानत पर बाहर हैं।

ईडी ने कहा था- चिदंबरम गवाहों को प्रभावित कर रहे हैं
आईएनएक्स मीडिया को 305 करोड़ का फायदा पहुंचाने के मामले में सीबीआई ने 10 साल बाद मई 2017 में चिदंबरम के खिलाफ केस दर्ज किया था। इसके बाद ईडी ने भी उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू की थी। फिर सीबीआई ने भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में उन्हें 21 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में करीब 2 महीने बाद उन्हें सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिली थी। इसके बाद 16 अक्टूबर को ईडी ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। हाईकोर्ट में 15 नवंबर को सुनवाई के दौरान ईडी ने दावा किया था कि चिदंबरम जेल में रहने के बावजूद गवाहों को प्रभावित कर रहे हैं। बेल खारिज होने के बाद चिदंबरम सुप्रीम कोर्ट गए थे। जहां से गुरुवार को उन्हें जमानत दी गई।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना