--Advertisement--

करतारपुर / पाक ने सुषमा, अमरिंदर और सिद्धू को कॉरिडोर के उद्घाटन में आने का न्योता भेजा



सुषमा स्वराज। सुषमा स्वराज।
नवजोत सिंह सिद्धू। नवजोत सिंह सिद्धू।
अमरिंदर सिंह। अमरिंदर सिंह।
शाह महमूद कुरैशी। शाह महमूद कुरैशी।
X
सुषमा स्वराज।सुषमा स्वराज।
नवजोत सिंह सिद्धू।नवजोत सिंह सिद्धू।
अमरिंदर सिंह।अमरिंदर सिंह।
शाह महमूद कुरैशी।शाह महमूद कुरैशी।

  • 28 नवम्बर को कॉरिडोर का उद्धाटन करेंगे पाक प्रधानमंत्री इमरान खान
  • गुरुनानक देवजी 1555 में करतारपुर साहिब आए थे, जीवन के आखिरी 18 साल यहीं बिताए
  • यहां बना गुरुद्वारा अब पाकिस्तान में, सिख पर्व के मौके पर बड़ी संख्या में पहुंचते हैं श्रद्धालु

Dainik Bhaskar

Nov 24, 2018, 10:51 PM IST

इस्लामाबाद. पाकिस्तान ने शनिवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और उनके कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन में आने का न्योता भेजा। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 28 नवम्बर को कॉरिडोर का उद्धाटन करेंगे। 

पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने दी जानकारी

  1. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को इस संबंध में ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा, ‘‘पाकिस्तान ने सुषमा स्वराज, अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन में शामिल होने का न्योता भेजा है।’’ सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से इन तीनों को अाधिकारिक न्योता भी भेज दिया गया है।

  2. गुरुनानक देव ने करतारपुर साहिब में 18 साल बिताए थे। यह स्थान भारतीय सीमा से कुछ किलोमीटर अंदर पाकिस्तान में है। यहां हर साल काफी श्रद्धालु आते हैं। लंबे समय से एक कॉरिडोर बनाकर इसे  भारत के गुरदासपुुर से जोड़ने की मांग हो रही थी। हाल ही में दोनों देशों ने अपने क्षेत्रों में कॉरिडोर बनाने के लिए मंजूरी दे दी।

  3. मोदी सरकार ने गुरुवार को कैबिनेट बैठक में करतारपुर कॉरिडोर बनाने को मंजूरी दी। इसका निर्माण गुरदासपुर के डेरा बाबा नानक से पाकिस्तान से सटी अंतरराष्ट्रीय सीमा तक किया जाएगा। इसके अलावा सरकार पाकिस्तानी क्षेत्र में कॉरिडोर के विकास और निर्माण के लिए वहां की सरकार से भी अपील करेगी।

  4. सिद्धू और अमरिंदर ने सुषमा स्वराज को लिखे थे पत्र

    करतारपुर साहिब कॉरिडोर को लेकर उस वक्त सियासत गरमाई थी, जब नवजोत सिद्धू पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ समारोह में गए थे। इस दौरान उनके पाक आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से गले मिलने पर विवाद हुआ।

  5. सिद्धू ने अपने बचाव में कहा था कि जब बाजवा ने उनसे करतारपुर का रास्ता खोलने की बात कही, तभी उनसे गले मिले। इसके बाद सिद्धू और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को इस मामले में पत्र लिखकर करतारपुर का रास्ता खोलने की मांग की थी।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..