पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Pakistan Ready To Reopen Kartarpur Corridor On June 29, Foreign Minister Qureshi Announced

करतारपुर कॉरिडोर:पाकिस्तान के 29 जून से कॉरिडोर खोलने की तैयारी के दावे को भारत ने खारिज किया, कहा- यह भ्रम फैलाने की कोशिश है

जालंधरएक महीने पहले
करतारपुर कॉरिडोर की नींव 2018 में रखी गई थी। भारत में 26 नवंबर को और पाकिस्तान में 28 नवंबर को शिलान्यास किया गया था।- फाइल फोटो
  • पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा- 29 जून को वह दोबारा कॉरिडोर खोलने के लिए तैयार
  • लाहौर से करतारपुर साहिब की दूरी 120 किमी है तो गुरदासपुर इलाके में भारतीय सीमा से यह 7 किलोमीटर दूर है
Advertisement
Advertisement

पाकिस्तान सिख श्रद्धालुओं के लिए करतारपुर कॉरिडोर 29 जून से खोलने की तैयारी कर रहा है। यह जानकारी पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा, 29 जून को महाराजा रणजीत सिंह की पुण्यतिथि है। हम चाहते हैं कि इस दिन कॉरिडोर खुल जाए। इसके लिए हम भारत से बात कर रहे हैं।' उधर, सरकार ने पाकिस्तान के करतार कॉरिडोर को फिर से खोलने की तैयारी को खारिज कर दिया है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सरकार ने कहा कि यह सदभावना के नाम पर भ्रम फैलाने की कोशिश है।

दरअसल, भारत में कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए 15 मार्च को करतारपुर कॉरिडोर को बंद करने का फैसला लिया गया था। पहले इसे 31 मार्च तक बंद किया गया था, लेकिन बाद में अनिश्चितकाल के लिए बंद रखने का फैसला किया गया।

गुरु नानक देव से जुड़ा करतारपुर गुरुद्वारे का इतिहास
पाकिस्तान के नारोवाल जिले में रावी नदी के पास स्थित गुरुद्वारा करतारपुर साहिब का इतिहास करीब 500 साल से भी पुराना है। मान्यता है कि 1522 में सिखों के गुरु नानक देव ने इसकी स्थापना की थी। उन्होंने अपने जीवन के आखिरी साल यहीं बिताए थे। लाहौर से करतारपुर साहिब की दूरी 120 किलोमीटर है तो गुरदासपुर इलाके में भारतीय सीमा से यह लगभग 7 किलोमीटर दूर है।

दोनों देशों की सरकारों के प्रयासों से बना था कॉरिडोर
भारत और पाकिस्तान की सरकारों ने गुरदासपुर के डेरा बाबा नानक और पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित पवित्र गुरुद्वारे को जोड़ने के लिए कॉरिडोर बनाने का फैसला लिया था। करतारपुर कॉरिडोर की नींव 2018 में रखी गई थी। भारत में 26 नवंबर को और पाकिस्तान में 28 नवंबर को शिलान्यास किया गया था। इसके बाद गुरुनानक देव जी के प्रकाशोत्सव पर 9 नवंबर 2019 को इसे जनता को समर्पित कर दिया गया था।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement