पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Pakistan Gujarat | Pakistan Terrorist Infiltration Routes In India Rajasthan Gujarat; Here's Latest News And Updates

पाकिस्तान की नई साजिश:आतंकी अब कश्मीर के अलावा राजस्थान-गुजरात के रास्ते भी घुसपैठ की कोशिश कर रहे

नई दिल्ली6 महीने पहले

पाकिस्तान अब आतंकियों को जम्मू-कश्मीर और पंजाब के अलावा राजस्थान-गुजरात के रास्ते भी घुसपैठ करवाने की कोशिश में है। बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) की ओर से जारी आंकड़ों के हवाले से न्यूज एजेंसी ने बताया कि हाल के दिनों में घुसपैठ की घटनाएं बढ़ी हैं।

पिछले साल राजस्थान और गुजरात से घुसपैठ नहीं
पिछले साल नवंबर के पहले हफ्ते तक राजस्थान और गुजरात बॉर्डर से घुसपैठ की कोई घटना नहीं हुई। लेकिन, इस साल घुसपैठ की कोशिशें हुई हैं। वहीं, BSF के कश्मीर फ्रंटियर ने इस साल बॉर्डर पर घुसपैठ की एक कोशिश को नाकाम किया था। पिछले साल नंवबर के पहले हफ्ते तक घुसपैठ की चार घटनाएं सामने आईं थीं।

BSF पूरी तरह मुस्तैद
अधिकारियों ने दावा किया कि पाकिस्तान भारत में आतंकी भेजने के लिए अलग रास्ते तलाश रहा है। हमारे जवान पूरी तरह मुस्तैद हैं और 24 घंटे बॉर्डर की निगरानी में लगे हुए हैं। उन्होंने बताया कि BSF अपने जवानों की पोजिशन इंटेलिजेंस इनपुट के हिसाब से लगातार अपडेट करते रहते हैं।

सबसे ज्यादा घुसपैठ जम्मू और पंजाब बॉर्डर से
BSF अधिकारियों ने बताया कि इस साल नवंबर के पहले हफ्ते तक 11 घुसपैठ की घटनाएं हुईं। घुसपैठ जम्मू, कश्मीर, पंजाब, राजस्थान और गुजरात से लगे बॉर्डर से की गई। इस साल जम्मू और पंजाब बॉर्डर से सबसे ज्यादा 4-4 घुसपैठ की घटनाएं रिकॉर्ड की गईं।

जुलाई में गुजरात-राजस्थान बॉर्डर पर की थी कोशिश
गुजरात-राजस्थान बॉर्डर पर रण ऑफ कच्छ से लगती सीमा पर जुलाई में 12-13 लोग घुसपैठ की फिराक में थे। घुसपैठियों को गश्त लगा रहे जवानों ने कई चेतावनी दी थी, लेकिन वह आगे बढ़ते ही गए। इसके बाद जवानों ने फायरिंग की, जिसमें एक घुसपैठिया तो मारा गया था, बाकी सभी वापस भागने में कामयाब हो गए थे।

नवंबर में 150 मीटर लंबी सुरंग मिली थी
जम्मू-कश्मीर के सांबा सेक्टर में BSF ने इंटरनेशनल बॉर्डर पर 150 मीटर लंबी सुरंग का पर्दाफाश किया था। BSF ने एक घुसपैठिए को भी ढेर किया था। जम्मू में BSF के IG एनएस जामवाल ने बताया था कि इंटरनेशनल बॉर्डर पर इस सुरंग का मिलना यह साफ करता है कि पाकिस्तानी सेना आतंकियों की मदद कर रही है।

खबरें और भी हैं...