पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Parliament Winter Session; Live Updates From Rajya Sabha Lok Sabha Updates [November 28th 2019]

स्पीकर ने प्रज्ञा के बयान पर बहस कराने से इनकार किया, कांग्रेस सांसदों का सदन से वॉकआउट

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला (बाएं) और सदन से वॉकआउट करते कांग्रेस सांसद
  • लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा- प्रज्ञा का बयान रिकॉर्ड से हटाया गया, इसलिए इस पर बहस नहीं हो सकती
  • राजनाथ सिंह ने हंगामे के बीच कहा- गोडसे को देशभक्त मानने की सोच को ही हम खारिज करते हैं

नई दिल्ली. प्रज्ञा ठाकुर के नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर गुरुवार को लोकसभा में जमकर हंगामा हुआ। कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने इस पर स्थगन प्रस्ताव का नोटिस देते हुए चर्चा की मांग की। हालांकि, स्पीकर ओम बिड़ला ने कहा कि प्रज्ञा का बयान रिकॉर्ड से निकलवा दिया गया है, ऐसे में इस पर चर्चा नहीं की जा सकती। इस पर कांग्रेस सांसदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया।


इससे पहले लोकसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गोडसे को देशभक्त मानने की सोच को ही हम खारिज करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसी किसी भी विचारधारा का विरोध करती है, जो गोडसे को देशभक्त बताती है। महात्मा गांधी की विचारधारा आज भी प्रासंगिक है, वे देश के मार्गदर्शक हैं

प्रज्ञा ने कांग्रेस को आतंकी पार्टी कहा था: चौधरी
कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने उनकी पार्टी को आतंकी पार्टी कहा था। यह वही पार्टी है जिसके नेताओं ने देश की आजादी के लिए बलिदान दिए। यहां हो क्या रहा है। क्या सदन इस पर चुप बैठेगा। महात्मा गांधी के हत्यारे को देशभक्त कहा जा रहा है।

प्रज्ञा ठाकुर गांधी जी की दुश्मन हैं: ओवैसी
एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर कहा, “यह पहली बार नहीं है जब उन्होंने इस तरह की बातें कही है। उनके बयान से स्पष्ट है कि वह गांधी जी की दुश्मन है और उनके हत्यारे का समर्थक। मैं स्पीकर महोदय को विशेषाधिकार प्रस्ताव सौंपा हूं। आगे देखते हैं क्या होता है।”

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें