• Hindi News
  • National
  • PM Modi said AgustaWestland middleman disclose secrets of politicians he served
--Advertisement--

मोदी ने कहा- अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर कांड के राजदार को हम दुबई से ले आए, अब वह खोलेगा राज

225 करोड़ रुपए की दलाली के आरोपी को ऐसे लाया गया भारत

Dainik Bhaskar

Dec 05, 2018, 06:18 PM IST
PM Modi said AgustaWestland middleman disclose secrets of politicians he served

जोधपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को सुमेरपुर में अगस्ता-वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाला का जिक्र किया। उन्होंने कहा, "यूपीए के वक्त देश में वीवीआईपी हेलिकॉप्टर का घोटाला हुआ था। सरकार में आने के बाद हमने घोटाले की जांच शुरू की। उसमें से एक राजदार हमारे हाथ लग गया। आज अखबारों में पढ़ा होगा। अब ये राजदार राज खोलेगा तो पता नहीं बात कितनी दूर तक जाएगी।" 3600 करोड़ रुपए के इस घोटाले में बिचौलिये ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन मिशेल को मंगलवार देर रात संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से भारत लाया गया। उसे कोर्ट में पेश कर सीबीआई कस्टडी में सौंपा गया है। ये इंग्लैंड का नागरिक है और दुबई में रहता था।

नेशनल हेराल्ड केस का जिक्र किया
मोदी ने नेशनल हेराल्ड केस का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, " सुप्रीम कोर्ट ने इस केस में सोनिया-राहुल के खिलाफ जांच की मंजूरी दी है। कोर्ट ने नामदारों के काले कारनामों का चिट्ठा खोलने का अधिकार सरकार को दे दिया है। देखते हैं ये लूट मचाने वाले कितना बच कर निकलते हैं?" नेशनल हेराल्ड केस में राहुल, सोनिया और कांग्रेस नेता ऑस्कर फर्नांडीस के खिलाफ आयकर जांच अभी जारी रहेगी। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को आयकर विभाग को इनके खिलाफ वर्ष 2011-12 का टैक्स असेसमेंट दोबारा खोलने की इजाजत दे दी है। हालांकि, कोर्ट ने कहा कि मामला लंबित रहने के दौरान इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाए।

मिशेल पर क्या आरोप हैं?
वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे में मिशेल पर 225 करोड़ रुपए की दलाली लेने का आरोप है। इस घोटाले में पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी, उनके परिवार के सदस्यों और अफसरों को भी शामिल किया गया था। यह भी कहा गया कि अधिकारियों ने अपने पद का गलत इस्तेमाल करके वीवीआईपी हेलिकॉप्टर की सर्विस सीलिंग 6 हजार मीटर से 4500 मीटर तक कम करा ली थी। सीलिंग कम होने के बाद 556.262 मिलियन यूरो (करीब 44 लाख करोड़ रुपए) के हेलिकॉप्टर कॉन्ट्रैक्ट पर सहमति बनी थी। इसके लिए रक्षा मंत्रालय (यूपीए 2) ने 8 फरवरी 2010 को 12 वीवीआईपी हेलिकॉप्टरों के लिए पैसे दिए थे।

भारत कैसे लाया गया?
मिशेल के खिलाफ 24 सितंबर 2015 को गैर जमानती वॉरंट जारी किया गया था। फरवरी 2017 में उसके खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया था। मिशेल को दुबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह यूएई की जेल में ही था। दुबई कोर्ट ने मिशेल के वकीलों की तरफ से दायर दो आपत्तियों को खारिज कर दिया था। साथ ही उसे भारतीय अफसरों को सौंपे जाने का फैसला सुरक्षित रख लिया था। पिछले साल सितंबर में

X
PM Modi said AgustaWestland middleman disclose secrets of politicians he served
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..