• Hindi News
  • National
  • Prime Minister Narendra Modi Award | CERAWeek Global Energy And Environment Leadership Award, CERAWeek Conference 2021, IHS Markit, Bill And Melinda Gates Foundation, Bill Gates

मोदी को एक और इंटरनेशनल अवॉर्ड:इंटरनेशनल एनर्जी कॉन्फ्रेंस में PM को ग्लोबल लीडरशिप अवॉर्ड दिया जाएगा; 1-5 मार्च को होना है आयोजन

वॉशिंगटन8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एनुअल इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा एनर्जी इंडस्ट्री के लीडर्स, एक्सपर्ट्स, सरकारी अधिकारी और पॉलिसी मेकर शिरकत करेंगे। - Dainik Bhaskar
एनुअल इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा एनर्जी इंडस्ट्री के लीडर्स, एक्सपर्ट्स, सरकारी अधिकारी और पॉलिसी मेकर शिरकत करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अगले हफ्ते एक एनुअल इंटरनेशनल एनर्जी कॉन्फ्रेंस में CERAWeek ग्लोबल एनर्जी और एनवायरमेंटल लीडरशिप अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा। 1 से 5 मार्च के बीच आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम को PM मोदी संबोधित भी करेंगे। इवेंट के आयोजक आईएचएस मार्किट ने बताया कि सम्मेलन में क्लाइमेट के लिए अमेरिका के राष्ट्रपति के प्रतिनिधि जॉन कैरी, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह-अध्यक्ष और ब्रेकथ्रू एनर्जी के फाउंडर बिल गेट्स और सऊदी अरामको के CEO अमीन नासिर शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री मोदी के दृष्टिकोण से प्रभावित : यर्गिन
आईएचएस मार्किट के वाइस चेयरमैन और कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डेनियल यर्गिन ने कहा कि हम दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की भूमिका पर प्रधानमंत्री मोदी के दृष्टिकोण से काफी प्रभावित हैं। देश और दुनिया की भावी ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए सतत विकास में भारत के नेतृत्व का विस्तार करने की उनकी प्रतिबद्धता की हम सराहना करते हैं। हम उन्हें CERAWeek ग्लोबल एनर्जी और एनवायरमेंटल लीडरशिप अवॉर्ड से सम्मानित करके काफी खुशी महसूस कर रहे हैं।

भारत की भूमिका अहम
उन्होंने कहा कि आर्थिक विकास, गरीबी कम करने और एक नए ऊर्जा भविष्य की दिशा में अपना रास्ता बनाने में भारत वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के केंद्र में रूप में उभरा है। यूनिवर्सल एनर्जी तक पहुंच बरकरार रखने के साथ ही जलवायु उद्देश्यों को पूरा करने के लिए भारत की भूमिका काफी अहम रहने वाली है।

कॉन्फ्रेंस में कौन-कौन शामिल होता है
इस एनुअल इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस में एनर्जी इंडस्ट्री के लीडर्स, एक्सपर्ट्स, सरकारी अधिकारी और पॉलिसी मेकर, टेक्नोलॉजी क्षेत्र के लीडर, वित्तीय-औद्योगिक संस्थाएं और एनर्जी टेक्नोलॉजी के इनोवेटर्स का समूह शिरकत करते हैं।