प्रधानमंत्री मोदी का संबोधन तस्वीरों में / प्रधानमंत्री ने हाथ जोड़कर अपील की, कहा- कोरोना को लेकर लापरवाही बढ़ी है, दो गज की दूरी का पालन करें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन 16 मिनट का था। राष्ट्र के नाम 103 दिनों में यह छठा संबोधन था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन 16 मिनट का था। राष्ट्र के नाम 103 दिनों में यह छठा संबोधन था।
X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन 16 मिनट का था। राष्ट्र के नाम 103 दिनों में यह छठा संबोधन था।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन 16 मिनट का था। राष्ट्र के नाम 103 दिनों में यह छठा संबोधन था।

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 06:45 PM IST

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के नाम 16 मिनट का संबोधन दिया। उनका पूरा भाषण कोरोना पर फोकस रहा। उन्होंने लोगों से लापरवाही न करने की अपील की। कहा, ‘अब हमें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है, पर अब हम ज्यादा लापरवाह होते जा रहे हैं। मास्क, गमछा, फेसकवर और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है।’

मोदी ने हाथ जोड़कर अपील की 

मोदी ने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ लड़ते-लड़ते अब हम अनलॉक-2 में प्रवेश कर रहे हैं। इस दौरान अब हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं, जब सर्दी, जुखाम, बुखार जैसी बीमारी होती है। मेरी सभी देशवासियों से प्रार्थना है कि अपना ध्यान रखिए। 

अनलॉक 1 में बढ़ी लापरवाही 

प्रधानमंत्री ने कहा- जब से देश में अनलॉक-1 हुआ है, व्यक्तिगत और सामाजिक व्यवहार में लापरवाही भी बढती ही चली जा रही है। उन्होंने कहा कि भले ही अब तक हम दो गज की दूरी को लेकर और बीस सेकंड हाथ धोने को लेकर सतर्क रहे हैं। आज जब हमें ज्यादा सतर्कता की जरूरत है तो लापरवाही बढ़ना बहुत ही चिंता का कारण है।

सभी मास्क पहनें 

प्रधानमंत्री ने कहा कि आपसे प्रार्थना करता हूं, आग्रह करता हूं कि स्वस्थ रहिए। दो गज की दूरी का पालन करते रहिए। गमछा, फेसकवर, मास्क का उपयोग करिए और कोई लापरवाही मत करिए।

गरीबों को अन्न दे रही है सरकार 

मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाएगा। 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज देने वाली इस योजना के तहत गरीब परिवारों को हर महीने हर सदस्य के हिसाब से 5 किलो गेहूं या चावल और प्रति परिवार एक किलो दाल मुफ्त मिलती रहेगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना