• Hindi News
  • National
  • Prime Minister Narendra Modi Will Interact With District Magistrates Of Various Districts Today Via Video Conferencing.

PM का कांग्रेस पर निशाना:एस्प्रेशनल डिस्ट्रिक्ट की समीक्षा बैठक में मोदी ने कहा- पहले विकास सिर्फ आंकड़ों में दिखता था

4 महीने पहले
इस बैठक का उद्देश्य केंद्रीय योजनाओं के लक्ष्य को हासिल करने पर फोकस करना है। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
इस बैठक का उद्देश्य केंद्रीय योजनाओं के लक्ष्य को हासिल करने पर फोकस करना है। -फाइल फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए विभिन्न जिले के कलेक्टर (DM) से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की और जिलों में चलाई जा रहीं सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का फीडबैक लिया।

PM मोदी ने संबोधन के दौरान कहा, "देश में पहले आंकड़ों में आर्थिक विकास दिखता रहा, लेकिन आजादी के इतने सालों बाद भी देश के कई जिले पीछे रह गए। इन जिलों पर पिछड़े जिलों का टैग लगा दिया गया। एक तरफ सैकड़ों जिले प्रगति करते गए और पिछड़े जिले और पीछे होते गए। समग्र रूप से जब परिवर्तन नजर नहीं आता है तो जो जिले काम कर रहे हैं उनमें भी निराशा आती है।"

PM मोदी ने आगे कहा, "आज एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट, देश के आगे बढ़ने के अवरोध को समाप्त कर रहे हैं। आप सबके प्रयासों से, एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट, आज गतिरोधक के बजाय गतिवर्धक बन रहे हैं।"

जन-धन खातों में 4 से 5 गुना की वृद्धि हुई
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 4 सालों में देश के लगभग हर आकांक्षी जिले में जन-धन खातों में 4 से 5 गुना की वृद्धि हुई है। लगभग हर परिवार को शौचालय मिला है, हर गाँव तक बिजली पहुंची है और बिजली सिर्फ गरीब के घर में नहीं पहुंची है बल्कि लोगों के जीवन में ऊर्जा का संचार हुआ है।

उन्होंने आगे कहा, "एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट में विकास के लिए प्रशासन और जनता के बीच सीधा कनेक्ट, एक इमोशनल जुड़ाव बहुत जरूरी है। एक तरह से गवर्नेंस का 'टॉप-टु-बॉटम' और 'बॉटम-टु-टॉप' फ्लो और इस अभियान का महत्वपूर्ण पहलू है- टेक्नोलॉजी और इनोवेशन"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज आज़ादी के अमृतकाल में देश का लक्ष्य है सेवाओं और सुविधाओं का शत प्रतिशत सेचुरेशन यानी, हमने अभी तक जो उपलब्धियां हासिल की हैं, उसके आगे हमें एक लंबी दूरी तय करनी है और बड़े स्तर पर काम करना है।

एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट क्या है
भारत सरकार की तरफ से साल 2018 में एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट प्रोग्राम की शुरुआत की गई थी। पूरे देश में 117 जिले बतौर एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट चुने गए। इस स्कीम अधीन 5 क्षेत्रों की तरफ विशेष ध्यान दिया जाता है, जैसे कि हेल्थ एंड न्यूट्रिशन, एजुकेशन, एग्रीकल्चर एंड वाटर रिसोर्सज, फाइनांशियल इन्क्लूजन एंड हैवी डिवेल्पमेंट और बेसिक इंफ्रा स्ट्रक्चर। प्रोग्राम का उद्देश्य चुनिंदा जिलों को बदलना है, जिससे जीवन स्तर को सुधारा जा सके।