• Hindi News
  • National
  • Police Caught SIMI Terrorist Abdullah Danish, Inciting Muslim Youths Against Government,had Been On The Run For Over 19 Years.

19 साल से फरार सिमी आतंकी गिरफ्तार:आतंकी अब्दुल्ला देशद्रोह का आरोपी, फर्जी वीडियो जारी कर सरकार के खिलाफ रचता था साजिश

नई दिल्ली10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आतंकी अब्दुल्ला दानिश (भूरी टोपी में) को रविवार को गिरफ्तार करने के बाद हिरासत में ले जाते दिल्ली पुलिस के अधिकारी। - Dainik Bhaskar
आतंकी अब्दुल्ला दानिश (भूरी टोपी में) को रविवार को गिरफ्तार करने के बाद हिरासत में ले जाते दिल्ली पुलिस के अधिकारी।

दिल्ली पुलिस ने रविवार को 19 साल से फरार एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया। 58 साल का अब्दुल्ला दानिश प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) का सदस्य है। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के डिप्टी कमिश्नर प्रमोद सिंह कुशवाह ने रविवार को बताया कि पुलिस को 2001 के देशद्रोह के मामले में उसकी तलाश थी।

डिप्टी कमिश्नर कुशवाह ने कहा- आतंकी अब्दुल्ला मुस्लिम युवकों को सरकार के खिलाफ भड़काने की साजिश रच रहा था। उन्हें नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन के लिए भड़का रहा था। धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने वाली कट्टर बातों का प्रचार कर रहा था। वह फर्जी वीडियो के जरिए केंद्र सरकार की ओर से मुसलमानों पर जुल्म करने की बात फैला रहा था।

अब्दुल्ला को 2002 में फरार घोषित किया गया था
अब्दुल्ला दानिश 1985 में सिमी में शामिल हुआ था। वह चार साल तक संगठन के हिन्दी इस्लामिक मूवमेंट नामक मैगजीन का एडिटर भी रहा था। अब्दुल्ला को 2002 में एक ट्रायल कोर्ट ने फरार घोषित किया था। उस पर देशद्रोह और गैरकानूनी कामों में शामिल होने का आरोप है।

2001 में पुलिस से बचकर भागा था अब्दुल्ला

अब्दुल्ला की गिरफ्तारी 2001 में हुई सिमी सदस्यों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से जुड़ी है। संगठन के बैन होने के बावजूद दिल्ली के सिमी मुख्यालय में यह कॉन्फ्रेंस हुई थी। इस दौरान पुलिस ने छापेमारी की थी। इस दौरान सिमी मुख्यालय से कई भड़काने वाले दस्तावेज मिले थे। कई सिमी सदस्य गिरफ्तार किए गए थे। हालांकि, कुछ वहां फरार होने में कामयाब हुए थे। अब्दुल्ला उनमें से एक है।