• Hindi News
  • National
  • Prime Minister Narendra Modi To Travel To US In September, Will Address UNGA And Indian Diaspora In Houston

मोदी सितंबर में यूएन की बैठक में हिस्सा लेने अमेरिका जाएंगे, भारतीय समुदाय को ह्यूस्टन में संबोधित करेंगे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • यह तीसरा मौका होगा जब प्रधानमंत्री अमेरिका में रहने वाले भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे
  • इससे पहले वे 2014 में न्यूयॉर्क और 2016 में सिलिकॉन वैली में कार्यक्रम में हिस्सा ले चुके हैं

वॉशिंगटन. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सितंबर में अमेरिका जाएंगे। न्यूज एजेंसीा ने इस बात की जानकारी दी। वे यहां संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) की बैठक में हिस्सा लेंगे। इसके साथ ही वे ह्यूस्टन में भारतीय-अमेरिकी समुदाय को संबोधित भी करेंगे। 

 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, भारतीय प्रवासियों की जनसंख्या को देखते हुए फिलहाल ह्यूस्टन और शिकागो में से किसी एक को ही प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के लिए चुना जाएगा। हालांकि, मामले की जानकारी रखने वालों का कहना है कि मोदी 22 सितंबर को ह्यूस्टन में ही भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। इसके बाद 23 सितंबर को वे यूएन में जलवायु परिवर्तन पर होने वाली विशेष बैठक में भाषण देंगे। 

 

न्यूयॉर्क और सिलिकॉन वैली में कार्यक्रम कर चुके हैं मोदी

ह्यूस्टन को दुनिया की ऊर्जा राजधानी भी कहा जाता है। मोदी के लिए भी ऊर्जा सुरक्षा ही प्राथमिकता रही है। 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद यह तीसरा मौका होगा, जब मोदी अमेरिका में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के सामने भाषण देंगे। इससे पहले 2014 में न्यूयॉर्क मेडिसन स्क्वॉयर गार्डन और 2016 में सिलिकॉन वैली में भी मोदी के कार्यक्रम रखे गए थे। दोनों ही मौकों पर भारतीयों की भारी भीड़ जुटी थी। एक अनुमान के मुताबिक, इन कार्यक्रमों में पूरे यूएस से 20 हजार से ज्यादा लोग मोदी को सुनने पहुंचे थे।

 

70 हजार की क्षमता वाले एनआरजी स्टेडियम में हो सकता है कार्यक्रम
ह्यूस्टन में होने वाले प्रस्तावित कार्यक्रम की तैयारियां अभी शुरू नहीं हुई हैं। हालांकि, इवेंट कराने वालों का कहना है कि वे कार्यक्रम का आयोजन एनआरजी स्टेडियम में करा सकते हैं। इसकी दर्शक क्षमता 70 हजार है। कार्यक्रम के लिए ह्यूस्टन को चुनने की एक वजह यह भी है कि यहां भारी संख्या में भारतीय समुदाय रहता है। पिछले साल टेक्सास के गवर्नर और ह्यूस्टन के मेयर ने भारत का दौरा भी किया था। इसके अलावा टेक्सास के पूर्व गवर्नर रिक पेरी (अब ऊर्जा मंत्री) के भारतीय-अमेरिकियों के साथ काफी करीबी रिश्ते हैं।

खबरें और भी हैं...