प्रियंका ने महासचिव का पद संभाला, राहुल के साथ जल्द कर सकती हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कांग्रेस दफ्तर में प्रियंका को राहुल के बगल वाला कमरा दिया गया
  • 23 जनवरी को राहुल ने प्रियंका को महासचिव बनाया, लोकसभा चुनाव में पूर्वी उत्तर प्रदेश का जिम्मा सौंपा

नई दिल्ली. प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को कांग्रेस के दिल्ली स्थित मुख्यालय में महासचिव का पद संभाला। इसके बाद उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से बात की। इससे पहले वे पति रॉबर्ट वाड्रा को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के दफ्तर छोड़कर आई थीं।


आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश का जिम्मा सौंपा है। राहुल ने प्रियंका को 23 जनवरी को पार्टी के महासचिव का जिम्मा सौंपा था। बताया जा रहा है कि राहुल और प्रियंका जल्द ही उत्तर प्रदेश में एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं। 

 

राहुल-प्रियंका 10 को जा सकते हैं इलाहाबाद
रिपोर्ट्स के मुताबिक, 10 फरवरी को बसंत पंचमी के मौके पर राहुल और प्रियंका इलाहबाद जा सकते हैं। इसके बाद ही दोनों की प्रेस कॉन्फ्रेंस भी संभव है। इसके अलावा राहुल ने प्रदेश के 13 अलग-अलग क्षेत्रों में 13 चुनावी रैलियां करने का कार्यक्रम तय किया है। उनकी पहली रैली फरवरी में लखनऊ में हो सकती है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बाकी रैलियों की जगह तय होनी बाकी है।

 

प्रियंका को जो कमरा मिला, उसी में राहुल भी महासचिव के तौर पर बैठे थे
अकबर रोड पर स्थित कांग्रेस दफ्तर में प्रियंका कांग्रेस अध्यक्ष और अपने भाई राहुल गांधी के बगल वाले कमरे में बैठेंगी। राहुल ने भी कांग्रेस महासचिव बनने के बाद इसी कमरे से अपना सफर शुरू किया था। उस वक्त उनकी मां सोनिया गांधी पार्टी अध्यक्ष थीं।