• Hindi News
  • National
  • Priyanka Gandhi says BJP is harassing Hardik on fighting for right of farmers and unemployed

गुजरात / हार्दिक की गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी ने कहा- लोगों के हक के लिए लड़ने को देशद्रोह बता रही भाजपा

प्रियंका गांधी ने कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर रविवार को नाराजगी जाहिर की। प्रियंका गांधी ने कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर रविवार को नाराजगी जाहिर की।
X
प्रियंका गांधी ने कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर रविवार को नाराजगी जाहिर की।प्रियंका गांधी ने कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर रविवार को नाराजगी जाहिर की।

  • डिप्टी सीएम नितिन पटेल ने कहा- कांग्रेस नेता हार्दिक को कोर्ट के आदेश पर गिरफ्तार किया गया
  • प्रियंका गांधी ने कहा- भाजपा किसानों और बेरोजगारों के हक के लिए लड़ने पर हार्दिक को परेशान कर रही

दैनिक भास्कर

Jan 19, 2020, 10:32 PM IST

नई दिल्ली. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल की गिरफ्तारी पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि किसानों और बेरोजगार युवाओं के हक के लिए लड़ने पर भाजपा उन्हें परेशान कर रही है। हार्दिक ने लोगों की आवाज उठाई, छात्रवृत्ति और नौकरियां की मांग की और किसान आंदोलन शुरू किया। भाजपा इसे देशद्रोह बता रही है।

हार्दिक पटेल को शनिवार को देशद्रोह के एक मामले में अहमदाबाद के एक कोर्ट में पेश नहीं होने के बाद गिरफ्तार किया गया था। उन्हें 24 जनवरी तक जेल भेज दिया गया है।

गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि प्रियंका गांधी को कानून की समझ होनी चाहिए। हार्दिक को कोर्ट के आदेश पर गिरफ्तार किया गया है। इसमें भाजपा सरकार या पुलिस की कोई भूमिका नहीं है। एक आरोपी को मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट में मौजूद रहना होता है। बार-बार पेश नहीं होने पर कोर्ट उसके खिलाफ वॉरंट जारी करता है।

हार्दिक पर उकसाऊ भाषण देने का आरोप

हार्दिक पर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उकसाऊ भाषण देने के आरोप में मामला दर्ज किया था। अपने भाषण में उन्होंने आरक्षण नहीं मिलने पर खुदकुशी करने वालों को खुद मरने के बदले पुलिस वालों को मारने के लिए कहा था। हालांकि, हार्दिक ने बाद में इससे इनकार किया था और क्राइम ब्रांच की चार्जशीट में अपने खिलाफ साक्ष्य नहीं होने की बात कही थी।

नवंबर 2018 में हार्दिक पर आरोप तय हुए थे

उकसाऊ भाषण देने के मामले में जुलाई 2016 में कोर्ट ने हार्दिक को जमानत दे दी थी। हालांकि, नवंबर 2018 में कोर्ट ने इस मामले में हार्दिक समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर दिए थे। इसी मामले में 18 जनवरी को उन्हें कोर्ट में उन्हें पेश होना था लेकिन, वे नहीं पहुंचे थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना