• Hindi News
  • National
  • Hizbul Mujahideen Commander Threatens India Of More Devastating Suicide Bomb Attack: Hizbul Mujahideen Commander Audio Viral Warna India Of Terror Attack: Latest News And Updates On Pulwama Attack: Dainik Bhaskar Hindi News

पुलवामा अटैक के बाद हिजबुल के आतंकी ने दी धमकी, कहा- जल्द ही 15 साल का बच्चा इंडियन आर्मी पर करेगा सुसाइड अटैक

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नेशनल डेस्क. पुलवामा हमले के 6 दिन बाद सोशल मीडिया पर एक ऑडियो क्लिप वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि ऑडियो हिजबुल मुजाहिद्दीन का घाटी में कमांडर रियाज नाइकू का है, जो कश्मीर में सुसाइड अटैक की धमकी दे रहा है। ऑडियो में कहा जा रहा है कि वो दिन दूर नहीं जब 15 साल का बच्चा अपने शरीर पर विस्फोटकों से भरा जैकेट बांधकर तुम्हारी सेना के काफिले में घुसेगा और ब्लास्ट करेगा। हिजबुल मुजाहिद्दीन कश्मीर में सबसे बड़ा आतंकी संगठन है। इसमें सुरक्षा बल के काफिलों पर कई बार हमला किया है। हालांकि अभी तक वायरल ऑडियो की पुष्टि नहीं हुई है।

ऑडियो में क्या है : वायरल हो रहा ऑडियो 17 मिनट का है, जिसमें कहा जा रहा है कि कश्मीर में जो कुछ भी हो रहा है वो वहां के लोगों पर हुए अत्याचारों का परिणाम है। तुम जब तक यहां हो तुम्हें रोना पड़ेगा। जब तक तुम्हारी सेना यहां है जवानों के कफन दिखते रहेंगे। हम मरने के तैयार हैं लेकिन तुम्हें अच्छे से नहीं रहने देंगे।
- ऑडियो में कहा जा रहा है कि हम आत्मसमर्पण से ज्यादा मरना पसंद करेंगे। वो दिन दूर नहीं जब 15 साल का बच्चा अपने शरीर पर विस्फोटकों से भरा जैकेट बांधकर तुम्हारी सेना के काफिले में घुस जाएगा। नाइकू ने भारत सरकार पर कश्मीरियों से किए वादे पूरे नहीं करने का आरोप लगाया। साथ ही यह भी कहा कि दुनिया की कोई ताकत कश्मीर में इन हमलों को नहीं रोक सकती।

कौन है आतंकी नाइकू : 31 साल का रियाज नाइकू घाटी में हिजबुल का कमांडर है। इसपर 12 लाख रुपए का इनाम है। अवंतीपोरा का रहने वाला नाइकू ए कैटेगरी का मिलिटेंट है। कई बार वो आर्मी के हत्थे चढ़ा, लेकिन जैसे-तैसे भाग निकला।

1990 में अस्तित्व में आया आतंकी संगठन : हिजबुल मुजाहिद्दीन अप्रैल, 1990 में अस्तित्व में आया एक अलगाववादी संगठन है। इसका गठन मुहम्मद एहसान डार ने किया था। 17 अक्टूबर 2016 को जम्मू-कश्मीर में जाकिर मूसा को हिजबुल का नया कमांडर बनाया। इसे बुरहान वानी की मौत के बाद उसकी जगह नया कमांडर बनाया गया।
- भारत, संयुक्त राज्य और यूरोपीय संघ द्वारा इस संगठन को आतंकवादी माना गया है। 13 सितंबर 2018 को उत्तर प्रदेश एटीएस ने कानपुर से इस संगठन के एक सदस्य को गिरफ्तार किया गया था।