नेचर और तकनीक / लोधी गार्डन में पेड़ों पर लगाए क्यूआर कोड, स्कैन कर जान सकेंगे उम्र, जीवन काल, बॉटेनिकल नेम

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2019, 04:08 AM IST



QR code placed on trees in Lodhi Garden
X
QR code placed on trees in Lodhi Garden

  • देश में पहली बार ऐसा प्रयोग, दुनिया में सबसे पहले अमेरिका में हुआ था
  • 90 एकड़ में फैले लोधी गार्डन में बोन्साई पार्क, हर्बल गार्डन, बांस के बगीचे

नई दिल्ली. दिल्ली के लोधी गार्डन में पेड़ों पर नई दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) ने खास क्यूआर कोड लगाए हैं। इन्हें स्मार्टफोन से स्कैन करके पेड़ की उम्र, जीवनकाल, बॉटेनिकल नेम, कॉमन नेम और उनके खिलने और बढ़ने के मौसम के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है। 90 एकड़ में फैले इस बगीचे में बोन्साई पार्क, हर्बल गार्डन, बांस के बगीचे हैं। हालांकि, ये क्यूआर कोड कुछ ही पेड़ों पर लगाए गए हैं, जिनकी संख्या बढ़ाई जाएंगी।

 

महाराष्ट्र में पेड़ों पर अलर्ट भेजने वाली चिप लगाईं

 

  • दुनिया में सबसे पहले : अमेरिकी की यूनिवर्सिटी ऑफ मिनिसोटा में स्टूडेंट्स ने कैंपस के पेड़ों की जानकारी के क्यूआर कोड पेड़ों पर लगा दिए थे। 
  • चीन में : हेबाई प्रांत के शिलिंगशुई गांव में 1 लाख 30 हजार पेड़ों को क्यूआर कोड के शेप में उगाया गया था। इसे ऊंची जगह से स्कैन करके इलाके के बारे में पूरी जानकारी ली जा सकती है।
  • महाराष्ट्र में : सोलापुर के मधा तालुका में पेड़ों में चिप लगा दी गई है। पेड़ काटने पर ये अलर्ट भेजती है।
COMMENT