गोवा के मंत्री का ऑडियो टेप / कांग्रेस का सवाल- पर्रिकर के बेडरूम में कितने राफेल?

Dainik Bhaskar

Jan 03, 2019, 11:44 AM IST


Rafale Deal controversy Congress and BJP head to head news and updates
X
Rafale Deal controversy Congress and BJP head to head news and updates
  • comment

  • कांग्रेस ने एक ऑडियो टेप जारी कर उसमें गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे की आवाज होने का दावा किया
  • कांग्रेस के मुताबिक, मंत्री ने कहा था- पर्रिकर ने अपने बेडरूम में राफेल की फाइलें होने की बात खुद बताई थी
  • पर्रिकर ने कहा- हताशा में झूठ बोल रही कांग्रेस

नई दिल्ली. कांग्रेस ने पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर पर राफेल डील से जुड़े राज छिपाने का आरोप लगाया है। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बुधवार को दावा किया कि उनके पास एक ऑडियो क्लिप है, जिसमें गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे की आवाज है। क्लिप में वे एक पत्रकार को बता रहे हैं कि राफेल से जुड़ी सारी फाइलें पर्रिकर के बेडरूम में मौजूद हैं। सुरजेवाला ने इसी क्लिप के आधार पर आरोप लगाया कि सरकार जानबूझकर संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से जांच कराने से बचना चाहती है।

 

वहीं, मनोहर पर्रिकर ने ट्वीट किया, "राफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कांग्रेस के झूठ का खुलासा हो चुका है। इसके बाद कांग्रेस का यह झूठे तथ्य पेश करने का हताशा भरा कदम है। इस तरह की चर्चा कैबिनेट और अन्य बैठकों में कभी नहीं हुई।'

 

राणे ने भी ऑडियो टेप को फर्जी बताया। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस का स्तर इतना नीचे गिर गया है कि वे एक टेप के साथ छेड़छाड़ कर कैबिनेट और मुख्यमंत्री के बीच गलतफहमी पैदा करना चाहते हैं। पर्रिकर ने कभी राफेल और इससे जुड़े दस्तावेजों का जिक्र नहीं किया। मैंने इस मुद्दे पर उनसे आपराधिक जांच की मांग की है।

 

मोदी के फ्रांस दौरे पर रक्षा मंत्री नहीं, अंबानी गए थे: कांग्रेस
सुरजेवाला ने कहा, “जब चौकीदार पेरिस गए थे, तब पर्रिकर गोवा में मछली खरीद रहे थे। मोदी के डेलिगेशन में रक्षा मंत्री नहीं, बल्कि अनिल अंबानी थे। राफेल घोटाले पर गोवा से भाजपा के मंत्री ने रहस्योद्घाटन किया और इस मामले की सारी परतें खोल दीं। पर्रिकर का कोई कुछ नहीं कर सकता क्योंकि राफेल की सारी फाइलें उनके पास उनके बेडरूम में मौजूद हैं। क्या भ्रष्टाचार की इसी कहानी के चलते चौकीदार जेपीसी की जांच से बच रहे हैं क्योंकि वे इस डील से जुड़े कोई भी कागजात संसदीय समिति को नहीं दिखाना चाहते?”

 

सुरजेवाला ने उठाए तीन सवाल
सुरजेवाला ने मोदी से तीन सवाल भी किए। उन्होंने पूछा- “मनोहर पर्रिकर के पास मौजूद राफेल की फाइलों में कौन-से राज दफन हैं? राफेल की फाइलों में वो कौन-सा भ्रष्टाचार व गड़बड़झाला है, जिस पर चौकीदार पर्दा डाल रहे हैं? और क्या भ्रष्टाचार की इसी कहानी के चलते चौकीदार संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की मांग से कन्नी काट रहे हैं?” 

 

ऑडियो के प्रमुख अंश... 

 

  • रिपोर्टर: गुड ईवनिंग सर! 
  • राणे: बॉस, गुड ईवनिंग! मैंने कल कॉल किया था। कैबिनेट मीटिंग 3 घंटे चली। सीएम (पर्रिकर) ने रोचक बात कही कि उनके बैडरूम में रफाल से जुड़ी फाइलें हैं। 
  • रिपोर्टर: (चौंकते हुए) क्या कह रहे हैं? 
  • राणे: स्टोरी करनी चाहिए। 
  • रिपोर्टर: ओके 
  • राणे: उन्होंने (पर्रिकर) ने फाइलों को दबाव बनाकर कुछ हासिल करने के लिए रखा है। 
  •  

कांग्रेस नेता भी लगा चुके हैं पर्रिकर पर आरोप
पिछले महीने कांग्रेस नेता जयपाल रेड्डी ने भी आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए मनोहर पर्रिकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राफेल डील के जरिए ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं।

 

मोदी ने कहा था- आरोप व्यक्तिगत नहीं
1 जनवरी को न्यूज एजेंसी एएनआई काे दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से राफेल के बारे में सवाल पूछा गया था। उनसे पूछा गया था कि राहुल गांधी का दावा है कि आपने अपने दोस्त अनिल अंबानी को ऑफसेट कॉन्ट्रेक्ट दिलवाने के लिए दबाव बनाया। आप जवाब क्यों नहीं देते? इस पर मोदी ने कहा था- अगर व्यक्तिगत आरोप हैं तो सामने रखें कि किसने, क्या और कहां किया। संसद में मैंने विस्तार से जवाब दिया। सुप्रीम कोर्ट में भी मामला स्पष्ट हो चुका है। चर्चा यह होनी चाहिए कि आजादी के बाद लगातार डिफेंस करार विवादों में क्यों घिरे? दलालों की क्या जरूरत थी? मैं आरोप लगाने वालों की चिंता करूं या सेना की जरूरतें पूरी करूं। मैं गालियां खाऊंगा लेकिन राष्ट्र की रक्षा करूंगा।

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन