कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चारमीनार के सामने तिरंगा फहराया:ट्वीट कर बोले- 32 साल पहले पापा ने यहीं से शरू की थी 'सद्भावना यात्रा'

हैदराबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा का आज 55वां दिन है। राहुल गांधी इन दिनों तेलंगाना में है। वह मंगलवार को हैदराबाद पहुंचे और ऐतिहासिक चारमीनार के सामने तिरंगा फहराया। इस दौरान हजारों लोग मौजूद रहे। खास बात यह है कि यह वही जगह है, यहां से पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी 'सद्भावना यात्रा' शुरू की थी।

राहुल ने ट्वीट किया- 32 साल पहले, पापा ने चारमीनार से सद्भावना यात्रा की शुरुआत की थी। भारत की एकता और अखंडता के लिए उन्होंने अपनी जान की कुर्बानी दी थी। सद्भावना मानवता का सबसे अनुपम मूल्य है। मैं, और कांग्रेस पार्टी, इसे किसी विभाजनकारी ताकत के सामने टूटने नहीं देंगे।

कार्यक्रम के दौरान चारमीनार के पास भीड़ रही।
कार्यक्रम के दौरान चारमीनार के पास भीड़ रही।

राहुल का जोरदार स्वागत
राहुल के चारमीनार पहुंचने पर लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया। सड़कों पर बड़ी संख्या में पार्टी के झंडे के साथ कार्यकर्ता मौजूद रहे। बता दें कि राहुल गांधी ने सबसे पहले मंच पर अपने पिता राजीव गांधी की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने नेकलेस रोड पर आयोजित कार्यक्रम में कहा- भाजपा और RSS देश में नफरत फैलाने का काम कर रहें हैं। एक भाई को दूसरे भाई से लड़ाया जा रहा है। इससे देश मजबूत नहीं होता है। देश कमजोर होता है।

कार्यकर्ताओं ने 'भारत जोड़ो' नारे के साथ राहुल का जोरदार स्वागत किया।
कार्यकर्ताओं ने 'भारत जोड़ो' नारे के साथ राहुल का जोरदार स्वागत किया।

कांग्रेस महासचिव बोले- 19 अक्टूबर को हर साल कांग्रेस ने यहां तिरंगा फहराया
कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि जिस स्थान पर राहुल गांधी ने तिरंगा फहराया था, वहीं 19 अक्टूबर 1990 को राजीव गांधी ने 'सद्भावना यात्रा' शुरू की थी। उन्होंने कहा कि हर साल उस दिन कांग्रेस ने यहां राष्ट्रीय ध्वज फहराया है। उन्होंने कहा कि इस बार वे 19 अक्टूबर को ऐसा नहीं कर सके इसलिए वे मंगलवार को ऐसा कर रहे थे।

मंच पर राहुल और खड़गे ने एक दूसरे को गले लगाया।
मंच पर राहुल और खड़गे ने एक दूसरे को गले लगाया।

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे
कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे मंगलवार को हैदराबाद में भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए। वह पार्टी अध्यक्ष का पद संभालने के बाद पहली बार यात्रा में पहुंचे। नेकलेस रोड पर इंदिरा गांधी की प्रतिमा पर आयोजित कार्यक्रम में राहुल और खड़गे ने एक-दूसरे को गले लगाया। कांग्रेस अध्यक्ष आखिरी बार 16 अक्टूबर को कर्नाटक के बेल्लारी में यात्रा में भाग लिया था।

यात्रा में दिग्गज नेता रहे मौजूद
चारमिनार में आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश, वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह और तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रमुख रेवंत रेड्डी भी मौजूद रहे। पदयात्रा मंगलवार सुबह शमशाबाद के मठ मंदिर से शुरू हुई और दोपहर के विश्राम के लिए हैदराबाद के बहादुरपुरा के लिगेसी पैलेस में रुकी। यात्रा का रात्रि विश्राम बोवेनपल्ली में गांधी विचारधारा केंद्र में होगा।