राहुल गांधी का PM मोदी से सवाल:पूछा - 8 चीते तो आ गए, ये बताइए 8 सालों में 16 करोड़ रोजगार क्यों नहीं आए

नई दिल्ली19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

भारत में चीते के आगमन को लेकर अब सियासत भी शुरू हो गई है। भारत जोड़ो यात्रा पर निकले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को भी बेरोजगारी पर ध्यान देना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया- 8 चीते तो आ गए, अब ये बताइए, 8 सालों में 16 करोड़ रोजगार क्यों नहीं आए? भारत जोड़ो यात्रा अभियान के दौरान एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा कि देश बेरोजगारी और महंगाई से जूझ रहा है, लेकिन पीएम जंगल में चीतों को रिहा करने में व्यस्त हैं।

वहीं, कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने कहा कि हमारा शेर भारत जोड़ो यात्रा पर निकला हुआ है तो भारत तोड़ने वाले विदेश से अब चीते ला रहे हैं। दूसरी ओर सपा अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने चीते की एक वीडियो ट्वीट कर चुटकी ली। उन्होंने लिखा- सबको इंतजार था दहाड़ का…पर ये तो निकला बिल्ली मौसी के परिवार का।

राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा अभियान पर हैं। 10 दिन में उन्होंने करीब 201 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली है।
राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा अभियान पर हैं। 10 दिन में उन्होंने करीब 201 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली है।

राहुल बोले- खुशी है चीतों को फिर से लाया जा रहा है
कार्यक्रम में कांग्रेस नेता ने कहा कि पीएम को अपना समय देश की समस्याओं को सुलझाने में लगाना चाहिए, लेकिन वह चीतों की तस्वीरें खींचने में व्यस्त हैं। उन्होंने कहा- मुझे चीतों से कोई समस्या नहीं है, उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। और मुझे खुशी है कि चीतों को फिर से लाया जा रहा है, लेकिन पीएम को लाखों बेरोजगार युवाओं पर भी ध्यान देना चाहिए।

पीएम मोदी चीता से भी तेज भागते हैं- ओवैसी
दो दिन पहले AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी चीतों के भारत में आने पर बीजेपी और पीएम मोदी पर तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि देश में जब हम बेरोजगारी की बात करते हैं, मोदी चीता को भी पीछे छोड़ देते हैं। जब चीन को लेकर सवाल पूछते हैं, वे चीता से तेज भागते हैं। ऐसे मामलों में वे काफी तेज हैं। बोलने के मामले में भी वे काफी तेज हैं। हम तो कह रहे हैं कि वे थोड़ा धीमा हो जाएं।

देश की सरजमीं पर PM ने छोड़े 8 चीते

कूनो में चीतों को छोड़ने के बाद पीएम मोदी ने इनकी तस्वीरें भी खीचीं। पीएम के पास कैमरा था। चीते जैसे ही बाड़े से निकले पीएम ने कैमरा उठा लिया और फोटोज क्लिक करने लगे।
कूनो में चीतों को छोड़ने के बाद पीएम मोदी ने इनकी तस्वीरें भी खीचीं। पीएम के पास कैमरा था। चीते जैसे ही बाड़े से निकले पीएम ने कैमरा उठा लिया और फोटोज क्लिक करने लगे।

भारत का 70 साल का इंतजार शनिवार को उस वक्त खत्म हो गया, जब नामीबिया से आए 8 चीतों ने देश की सरजमीं पर पहला कदम रखा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कूनो नेशनल पार्क में बॉक्स खोलकर 2 चीतों को क्वारंटीन बाड़े में छोड़ा। इस दौरान पीएम मोदी ने चीता मित्रों से कहा- कूनो में चीता फिर से दौड़ेगा तो यहां बायोडायवर्सिटी बढ़ेगी।

यहां विकास की संभावनाएं जन्म लेंगी। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। PM ने लोगों से अपील की कि अभी धैर्य रखें, चीतों को देखने नहीं आएं। ये चीते मेहमान बनकर आए हैं। इस क्षेत्र से अनजान हैं। कूनो को ये अपना घर बना पाएं, इसके लिए इनको सहयोग देना है। रिकॉर्डेड भाषण में PM मोदी ने चीते भेजने के लिए नामीबिया का आभार माना। पूरी खबर यहां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...