• Hindi News
  • National
  • Rahul Gandhi Slams Pakistan On Kashmir Issue, Congress Leader Rahul Gandhi Say Kashmir Is India’s Internal Issue

राहुल ने कहा- कश्मीर आंतरिक मुद्दा, पाक हिंसा फैलाने के लिए आतंकियों का समर्थन कर रहा

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
राहुल गांधी। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
राहुल गांधी। -फाइल फोटो
  • कांग्रेस ने कहा- पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मंच पर राहुल के नाम का गलत इस्तेमाल कर रहा
  • राहुल गांधी ने ट्वीट किया- दुनियाभर में पाकिस्तान को आतंकियों का समर्थक माना जाता है
  • उन्होंने कहा- कश्मीर मसले पर पाकिस्तान समेत किसी भी देश के दखल की जरूरत नहीं
  • भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने कहा- राहुल की वजह से पाक यूएन में चला गया, भगवान उन्हें सदबुद्धि दें

नई दिल्ली. अनुच्छेद 370 खत्म करने के 23 दिन बाद कांग्रेस ने खुलकर कश्मीर मुद्दे पर अपनी बात रखी। बुधवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि हमारे सरकार से कई मुद्दों को लेकर मतभेद हो सकते हैं, लेकिन यह साफ है कि कश्मीर हमारा आतंरिक मसला है। पाकिस्तान यहां हिंसा फैलाने के लिए आतंकियों का समर्थन कर रहा है। शशि थरूर ने भी राहुल के बयान का समर्थन किया। वहीं, कांग्रेस ने बयान में कहा कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मंच पर राहुल के नाम का गलत इस्तेमाल कर रहा है।
 
राहुल ने ट्वीट किया, ‘‘मैं इस सरकार से कई मुद्दों पर सहमत नहीं हूं, लेकिन यह साफ कर देना चाहता हूं कि कश्मीर हमारा आतंरिक मामला है। इसमें पाकिस्तान समेत किसी भी देश के दखल की जरूरत नहीं है। जम्मू-कश्मीर में हिंसा की घटनाएं हो रही हैं। पाकिस्तान यहां हिंसा फैलाने के लिए आतंकियों को उकसा रहा है। दुनियाभर में पाकिस्तान को आतंकियों का समर्थक माना जाता है।’’
 
 

‘पाक सरकार राहुल का नाम लेकर गलत संदेश फैला रही’
दूसरी ओर, कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला कहा, \'\'हमें ऐसी रिपोर्ट्स मिली हैं कि पाकिस्तान सरकार संयुक्त राष्ट्र में जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर अपने झूठ को सच साबित करने के लिए राहुल गांधी का नाम ले रही है। पाक राहुल के नाम पर गलत संदेश फैला रहा है। इसी कारण राहुल ने साफ कर दिया है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत के अभिन्न अंग हैं और हमेशा बने रहेंगे।
 

गिरिराज ने कहा- जमीन खिसक गई, तब बयान आया
भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने कहा- ‘‘भगवान राहुल गांधी को राष्ट्र के प्रति सदबुद्धि दें। राहुल के कारण पाकिस्तान यूएन में चला गया, यह बात उन्होंने (कांग्रेस) ही कही है। जब पैर के नीचे से जमीन खिसक गई, तब उनका बयान आया। गांव की कहावत है कि 100 जूते भी खाए और 100 प्याज भी खाए। यही राहुल गांधी का हाल है।’’
 

मोदी ने ट्रम्प से कहा था- कश्मीर पर किसी देश को कष्ट नहीं देना चाहते
हाल ही में बियारिट्ज में जी-7 समिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच मुलाकात हुई थी। इसके बाद 26 अगस्त को साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी ने ट्रम्प के सामने दो टूक कहा था कि कश्मीर भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मसला है और हम दुनिया के किसी भी देश को इस पर कष्ट नहीं देना चाहते। कश्मीर पर तीन बार मध्यस्थता की पेशकश कर चुके ट्रम्प ने कहा कि मोदी से पिछली रात इस मसले पर बात हुई। उन्हें विश्वास है कि कश्मीर के हालात उनके नियंत्रण में हैं। ट्रम्प ने कहा कि भारत और पाकिस्तान मिलकर अपनी समस्याएं सुलझा सकते हैं।
 

खबरें और भी हैं...