पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Rahul Gandhi Vs Rajnath Singh: In Parliament After Wayanad Farmer Suicide

राहुल ने किसान की दुर्दशा पर सवाल किए, राजनाथ बोले- इसके लिए दशकों से सरकार चलाने वाले जिम्मेदार

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
-फाइल।
  • राहुल ने कहा- सरकार किसानों की सहायता करने के बजाए अमीर कारोबारियों को रियायत दे रही
  • राजनाथ ने कहा- यह समस्या पिछले कुछ सालों में शुरू नहीं हुई, आजादी के बाद से बनी हुई है

नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को लोकसभा में किसानों की स्थिति को लेकर सरकार का पक्ष रखा। दरअसल, इससे पहले राहुल गांधी ने अपने भाषण में देश में किसानों की स्थिति को भयावह बताया था। इस पर सिंह ने कहा- दशकों तक सरकार चलाने वाले इस स्थिति के लिए जिम्मेदार हैं।

1) पांच साल में किसानों की आय बढ़ी- राजनाथ

राहुल ने कहा- मैं केरल में किसानों की दुर्दशा पर सरकार का ध्यान खींचना चाहता हूं। कल की घटना ने मुझे तकलीफ दी। वायनाड के किसान अनकित्तन (55) ने कर्ज के कारण आत्महत्या कर ली। इस साल यहां छह किसान आत्महत्या कर चुके हैं।

राहुल के मुताबिक सरकार किसानों की मदद करने के बजाए कारोबारियों को रियायत दे रही। ऐसी दोहरी नीति क्यों अपनाई जा रही? मैं सरकार से अनुरोध करता हूं कि रिजर्व बैंक यह सुनिश्चित करे कि बैंक किसानों को रिकवरी नोटिस की धमकी न दे।

इस पर राजनाथ ने कहा- किसानों की वर्तमान स्थिति को लेकर वे लोग जिम्मेदार हैं, जो दशकों से सरकार चला रहे थे। अधिकांश किसानों ने आत्महत्या भाजपा सरकार बनने से पहले की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने किसानों की आय दोगुना करने के प्रयास किए।

राजनाथ ने बताया- एक रिपोर्ट के अनुसार किसानों की आय में 20-25 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई। किसानों के लिए बहुत कुछ करना है। बहुत कुछ किया है। 5 सालों में किसानों की आत्महत्या की संख्या में कमी आई है। पिछले पांच साल में फसलों के समर्थन मूल्य में जितनी बढ़ोतरी हुई, उतनी आजादी के बाद किसी भी सरकार ने पांच साल में नहीं की।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें