पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • TikTok | Ravi Shankar Prasad Reaction On Decision To Bans 59 Chinese Apps (TikTok, Helo And WeChat); Minister Says Banning Apps A Digital Strike

चीन की हरकतें बर्दाश्त नहीं:केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले- चाइनीज ऐप बैन कर डिजिटल स्ट्राइक की; गलवान में हमारे 20 सैनिक शहीद हुए तो उनके दोगुने मारे गए

कोलकाताएक महीने पहले
प्रसाद ने उरी और पुलवामा हमले के बाद भारत की कार्रवाई याद दिलाते हुए कहा कि हम जवाब देने की इच्छा रखते हैं।
  • प्रसाद का कटाक्ष- इस वक्त सिर्फ 2 'सी' यानी कोरोना और चीन चर्चा में हैं
  • 'प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि हमारे जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी, तो इसके कुछ मायने हैं'

संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने चीन के 59 ऐप बैन करने के फैसले को डिजिटल स्ट्राइक बताया है। प्रसाद ने गुरुवार को कहा कि भारत शांति चाहता है, लेकिन कोई बुरी नजर डालेगा तो मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। संचार मंत्री ने कहा कि इस वक्त सिर्फ 2 'सी' यानी कोरोना और चीन चर्चा में हैं।

वर्चुअल रैली के जरिए बंगाल की जनता को संबोधित करते हुए प्रसाद ने कहा कि 15 जून को गलवान में हमारे 20 जवान शहीद हुए तो चीन के दोगुने सैनिक मारे गए। आप जानते हैं कि उन्होंने मारे गए सैनिकों की संख्या तक नहीं बताई।

'हमारी सरकार जवाब देना जानती है'
प्रसाद ने उरी और पुलवामा में आतंकी हमले के बाद भारत की जवाबी कार्रवाई की याद दिलाई। उसे चीन की हरकतों से जोड़ते हुए बोले कि प्रधानमंत्री अगर कह रहे हैं कि हमारे जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी, तो इसके मायने हैं। हमारी सरकार कर दिखाने की इच्छा रखती है।

'देश के संकट में टीएमसी साथ क्यों नहीं देती'
चीन के ऐप पर बैन लगाने के फैसले पर टीएमसी के विरोध पर भी प्रसाद ने सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि बंगाल में अलग ही रुख नजर आ रहा है। वहां की सत्ताधारी पार्टी टीएमसी पहले कहती थी कि चीन के ऐप पर रोक क्यों नहीं लगाते, लेकिन अब कह रहे हैं कि ऐसा क्यों किया? मैं पूछना चाहता हूं कि देश के संकट में वे सरकार का साथ क्यों नहीं देते?

टीएमसी सांसद ने टिक टॉक पर बैन को गलत बताया
बॉर्डर पर चीन से तनाव को देखते हुए केंद्र सरकार ने सोमवार को चीन के ऐप्स पर बैन लगा दिया था। इस पर टीएमसी सांसद नुसरत जहां ने बुधवार को कहा, "केंद्र ने जल्दबाजी में फैसला लिया है। सरकार को टिक टॉक जैसे ऐप का विकल्प देना चाहिए, क्योंकि इन ऐप से जुड़े लोगों की जिंदगी पर असर पड़ेगा। लोग नोटबंदी की तरह परेशान हो जाएंगे।"

चाइनीज ऐप पर बैन से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं...

1. चीन के ऐप्स पर पाबंदी: टिक टॉक, यूसी ब्राउजर और शेयर इट समेत 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन, सरकार ने कहा- ये देश की सुरक्षा और एकता के लिए खतरा

2. तृणमूल सांसद नुसरत जहां ने कहा- बिना सोचे समझे किया गया टिक टॉक को बैन, लोग नोटबंदी की तरह परेशान हो जाएंगे

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें