• Hindi News
  • National
  • Pragya's remark on Godse / PM Narendra Modi says he will never forgive, Amit Saha BJP has nothing to do with statement

गोडसे पर प्रज्ञा का बयान / मोदी ने कहा- मैं उन्हें कभी मन से माफ नहीं कर पाऊंगा; शाह ने भी कहा- ऐसे बयानों से पार्टी का लेना-देना नहीं



Pragya's remark on Godse / PM Narendra Modi says he will never forgive, Amit Saha BJP has nothing to do with statement
Pragya's remark on Godse / PM Narendra Modi says he will never forgive, Amit Saha BJP has nothing to do with statement
X
Pragya's remark on Godse / PM Narendra Modi says he will never forgive, Amit Saha BJP has nothing to do with statement
Pragya's remark on Godse / PM Narendra Modi says he will never forgive, Amit Saha BJP has nothing to do with statement

  • भोपाल से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था- गाेडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे
  • सवाल उठे ताे प्रज्ञा ने पहले कहा- पार्टी की लाइन ही मेरी लाइन; विवाद बढ़ा तो बयान पर माफी मांग ली
  • अमित शाह ने भी प्रज्ञा समेत 3 नेताओं के बयान पर पार्टी की अनुशासन समिति से रिपोर्ट मांगी
  • मप्र भाजपा के प्रवक्ता अनिल सौमित्र को भी गांधी विरोधी पोस्ट लिखने के लिए पार्टी ने निलंबित किया

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 04:57 PM IST

नई दिल्ली. भाजपा नेताओं द्वारा दिए गए विवादास्पद बयानों पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सफाई दी। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा, ''गांधीजी और गोडसे के संबंध में जो भी बयान दिए गए, ये भयंकर खराब हैं, घृणा और आलोचना के लायक हैं, सभ्य समाज में ये सोच नहीं चल सकती। ऐसी बातें करने वालों को आगे सौ बार सोचना चाहिए। उन्होंने माफी मांग ली है, ये अलग बात है। लेकिन मैं मन से माफ नहीं कर पाऊंगा।'' उधर, भाजपा ने मप्र में पार्टी प्रवक्ता अनिल सौमित्र को भी गांधी विरोधी पोस्ट लिखने पर निलंबित कर दिया। सौमित्र ने गांधीजी को पाकिस्तान का राष्ट्रपिता बताया था।

 

शाह बोले- 2 दिन में 3 नेताओं के बयानों का भाजपा से लेना-देना नहीं

भाजपा नेताओं द्वारा दिए गए विवादास्पद बयानों के चलते पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को भी डैमेज कंट्रोल के लिए आना पड़ा। उन्होंने ट्वीट किया कि 2 दिन में 3 नेताओं के बयानों का भाजपा से कोई लेना-देना नहीं है। इसको लेकर अनुशासन समिति 10 दिन में रिपोर्ट पेश करेगी। भोपाल से भाजपा उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गुरुवार को प्रचार के दौरान कहा कि नाथूराम गाेडसे देशभक्त थे, हैं और रहेंगे। गोडसे को आतंकी कहने वाले अपने गिरेबां में झांककर देखें। विवाद होने पर प्रज्ञा ने माफी मांग ली। बयान की रिपोर्ट आगर-मालवा के जिला निर्वाचन अधिकारी ने मध्यप्रदेश चुनाव आयोग को सौंप दी।

 

‘पार्टी ने बयानों को गंभीरता से लिया’

शाह ने कहा, ‘‘विगत 2 दिनों में अनंत कुमार हेगड़े, साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर और नलिन कटील के जो बयान आए हैं, वे उनके निजी बयान हैं। उन बयानों से भारतीय जनता पार्टी का कोई संबंध नहीं है। इन लोगों ने अपने बयान वापस लिए और माफी भी मांगी। फिर भी सार्वजनिक जीवन और भाजपा की गरिमा और विचारधारा के विपरीत इन बयानों को पार्टी ने गंभीरता से लिया है। तीनों बयानों को अनुशासन समिति को भेजने का निर्णय किया गया है। समिति तीनों नेताओं से जवाब मांगकर पार्टी को 10 दिन में रिपोर्ट दे।’’

 

राहुल का तंज- भाजपा-संघ गोडसे के चाहने वाले

 

 

हेगड़े की सफाई- ट्विवटर हैंडल हैक हो गया था

केंद्रीय मंत्री अनंत कुनार हेगड़े के ट्विटर अकाउंट से ट्वीट हुआ था, "खुशी है कि 70 साल बाद बदले हुए वैचारिक माहौल में गोडसे पर बहस हो रही है और दोषी को सुने जाने के लिए अच्छी गुंजाइश दी जा रही है। नाथूराम गोडसे को आखिरकार इस बहस से खुशी हुई होगी। यह समय मुखर होने और बयान पर शर्मिंदा न होने का है।'' हालांकि, बाद में उन्होंने ट्वीट किया कि उनका ट्विटर हैंडल हैक हो गया था।

 

 

प्रज्ञा पर देशद्रोह का केस दर्ज करने की मांग

अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने पिछले दिनों तमिलनाडु में एक कार्यक्रम में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को पहला हिंदू आतंकवादी कहा था। मीडियाकर्मियों ने जब प्रज्ञा से हासन के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने गोडसे को देशभक्त बता दिया। वहीं, कांग्रेस प्रज्ञा के बयान को लेकर आक्रामक है। उसने प्रज्ञा पर देशद्रोह का मामला दर्ज करने की मांग की।

 

शुक्र है कि प्रज्ञा ने गोडसे को देवता नहीं कहा : कमलनाथ 

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि राष्ट्रपिता के बारे में ऐसा कहने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होना चाहिए। शुक्र है कि उन्होंने गोडसे को देवता नहीं कहा। यह बयान भाजपा की सोच का प्रतीक है। वहीं, दिग्विजय सिंह ने कहा कि गोडसे महात्मा गांधी का हत्यारा था। उसे भाजपा नेता महिमामंडित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री, भाजपा अध्यक्ष और भाजपा नेता देश से माफी मांगें। गोडसे को महिमामंडित करना देशभक्ति नहीं, देशद्रोह है।

 

भाजपाई गोडसे के वंशज : सुरजेवाला

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि भाजपाई गोडसे के वंशज हैं। वे कहते हैं कि गाेडसे देशभक्त था और हेमंत करकरे देशद्राेही। हिंसा की संस्कृति और शहीदाें का अपमान करना भाजपा के डीएनए में है। 

 

प्रज्ञा के इन बयानों ने भाजपा की परेशानी बढ़ाई 
18 अप्रैल :
हेमंत करकरे को मेरा श्राप लगा। मेरे जेल जाने के 45 दिन बाद वह आतंकी हमले का शिकार हुए। 
21 अप्रैल : बाबरी ढांचा गिराने का मुझे कोई अफसोस नहीं, बल्कि गर्व है। मैंने ढांचे पर चढ़कर उसे तोड़ा।

 

23 मई को देखिए सबसे तेज चुनाव नतीजे भास्कर APP पर 

COMMENT