पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • RPF Jawan Shivcharan Gurjar, Saving His Life, Saved 8 People Trapped On The Tree In The Flood.

बाढ़ में 8 लोग फंसे थे, आरपीएफ जवान बोला- बचाने जा रहा हूं, न लौटूं तो परिवार को बता देना और सभी को बचा लिया

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बाढ़ में फंसे लोगों को शिवचरण ने एक-एक कर बचा लिया। इंसेट में जवान। - Dainik Bhaskar
बाढ़ में फंसे लोगों को शिवचरण ने एक-एक कर बचा लिया। इंसेट में जवान।
  • आरपीएफ के जवान शिवचरण ट्रेन से भुज जा रहे थे, ट्रेक पर पानी भरने से ट्रेन सामखियाली गांव के पास रुक गई
  • उन्होंने देखा कि कुछ लोग 20 फीट पानी में पेड़ पर फंसे हैं, पुलिस उन्हें बचाने की कोशिश कर रही है
  • पुलिस ने रोका तो कहा- परिवारवालों को वीडियो दिखाकर कहना कि लोगों को बचाने के लिए मैं शहीद हो गया

भुज. गुजरात में कच्छ के इलाके भुज में रविवार को बाढ़ के कारण आसपास के इलाकों में 20 फीट से ज्यादा पानी भर गया। हालात इतने खराब हो गए कि ट्रेनों को भी बीच में ही रोकना पड़ गया। ऐसे ही संकट के दौरान ट्रेन में तैनात आरपीएफ जवान शिवचरण गुर्जर ने जान की बाजी लगाते हुए बाढ़ में पेड़ पर फंसे 8 लोगों को बचा लिया।
 
दरअसल, शिवचरण महेसाणा से गांधीधाम जा रही ट्रेन में ड्यूटी पर थे। ट्रेक पर पानी भरने से सामखियाली गांव के पास ट्रेन को रोक दिया गया। ट्रेन से शिवचरण ने देखा कि दूर पेड़ पर कुछ लोग फंसे हैं और मदद के लिए चिल्ला रहे हैं। उन्होंने फंसे लोगों को बचाने की ठानी। पेड़ के आसपास 20 फीट तक पानी था। सामखियाली पुलिस भी लाेगाें काे निकालने के लिए जद्दोजहद कर रही थी।
 

पुलिस ने कहा- पानी गहरा है, शिवचरण रस्सी लेकर कूद पड़े
पानी का बहाव तेज होने से रेस्क्यू ऑपरेशन की रणनीति पर विचार चल रहा था। तभी, शिवचरण  पानी में कूदने लगे, तो पुलिस ने कहा कि पानी गहरा है। इस पर शिवचरण ने कहा, \'मैं इन लोगों को बचाने के लिए जा रहा हूं, आप वीडियो बना लेना। शायद वापस न लौट सकूं। मेरे परिवारवालों को वीडियो दिखाकर कहना कि लोगों को बचाने के लिए मैं शहीद हो गया।\' इतना कहकर शिवचरण ट्रेन से ही रस्सी लेकर कूद पड़े और तेज बहाव के बावजूद तैरते हुए उस पेड़ तक जा पहुंचे, जहां लोग फंसे थे। यहां से एक-एक कर 8 लोगों काे उन्होंने बाहर निकाला। 
 

पुलिस ने कहा- हम तय नहीं कर पा रहे थे
ट्रेन में मौजूद भचाऊ के डीएसपी केजी झाला ने कहा कि जो साहस शिवचरण ने दिखाया वह सराहनीय है। उन्होंने बिना समय गंवाए हमसे रस्सी मांगी और तेज बहाव में कूद पड़े। जबकि हम यह तय भी नहीं कर पाए थे कि लोगों को किस तरह बचाना है। 
 

एसपी ने कहा- हम राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए नाम भेजेंगे 
कच्छ में भारी बारिश के कारण बाढ़ आई हुई है। वायुसेना के हेलिकॉप्टर की मदद से अब तक 300 से अधिक लोगों को रेस्क्यू किया गया है। कच्छ की एसपी परीक्षिता गुर्जर ने कहा कि ट्रेन से निकलकर 8 लोगों को बचाने वाले आरपीएफ जवान शिवचरण का नाम रेलवे पुलिस की ओर से राष्ट्रपति पदक के लिए नामांकित किया जाएगा। 
 
 
 


 

खबरें और भी हैं...