पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sambit Patra Slams Delhi Government । Arvind Kejriwal । Over Covid 19 Issue

BJP का दिल्ली सरकार पर हमला:कोरोना से मौत के आंकड़े छिपाने का आरोप लगाया, संबित पात्रा बोले- 34 हजार डेथ सर्टिफिकेट बांटे; मौतें 9 हजार बताईं

नई दिल्ली11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

BJP ने दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर कोरोना काल में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। भाजपा ने कहा है कि दिल्ली में कोरोना से जितनी मौत हुई हैं, उससे बहुत कम बताई गई हैं। गुरुवार को बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने दिल्ली सरकार के खिलाफ प्रेस कांफ्रेंस की।

पात्रा ने दिल्ली में कोरोना से हो रही मौतों पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि दिल्ली के 3 नगर निगम ने 2 महीने के अंदर 34,750 डेथ सर्टिफिकेट जारी किए हैं। इतनी इतनी संख्या में डेथ सर्टिफिकेट जारी होने के बाद भी दिल्ली सरकार कोरोना से 9,916 मौत बता रही है। उन्होंने दिल्ली में हो रही मौतों की जांच की मांग की। पात्रा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली के घर-घर में ऑक्सीजन की होम डिलीवरी कराने का वादा किया था, लेकिन अब वे ऑक्सीजन की जगह शराब की की होम डिलीवरी करा रहे हैं।

दिल्ली में एक भी नया अस्पताल क्यों नहीं खुला?
उन्होंने कहा कि कोरोना से मौत के मामले में दिल्ली (2.9%) देश में पहले नंबर पर और पंजाब (1.3%) दूसरे नंबर पर है। आखिर दिल्ली में कोरोना से इतनी ज्यादा मौतें क्यों हो रही हैं? अरविंद केजरीवाल बार-बार कहते हैं कि हम तीसरी वेब की तैयारी कर रहे हैं। दूसरी वेब आने से पहले भी उन्होंने यही बात कही थी। पात्रा ने आरोप लगाया कि दिल्ली में 2015 से 2019 के बीच एक भी नया अस्पताल नहीं खोला गया है। जुलाई 2021 से अप्रैल 2021 तक एक भी वेंटीलेटर नहीं खरीदा गया है।

भंडोफोड़ होने के डर से ऑडिट नहीं करवाया
बीजेपी प्रवक्ता ने आगे कहा कि अरविंद केजरीवाल ने दो महीने पहले कहा था कि दिल्ली में 44 नए ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे। आज 2 महीने बाद एक भी प्लांट नहीं लगा है। ये केजरीवाल सरकार का मिस मैनेजमेंट है। उन्होंने सवाल किया कि दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में ऑक्सीजन ऑडिट के लिए मना क्यों किया था। क्योंकि उन्हें पता था कि ऑडिट हुआ था भंडाफोड़ हो जाएगा। केजरीवाल ने कहा था कि 18 क्रायोजैनिक टैंकर थाइलैंड से लाए जाएंगे। अब तक कितने टैंकर आए हैं?

दिल्ली सरकार की वैक्सीनेशन पॉलिसी पर सवाल
पात्रा ने दिल्ली सरकार की वैक्सीनेशन पॉलिसी पर भी सवाल उठाया। पात्रा ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने 7 मई को वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर जारी कर दिए थे, लेकिन दिल्ली सरकार को टेंडर जारी करने में 28 मई तक का समय लग गया। ऐसा क्यों है कि दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों ने सरकारी अस्पतालों से ज्यादा वैक्सीनेशन किया है?

गोपाल राय के बयान पर निशाना
संबित पात्रा ने दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय के उस बयान को नॉन प्रैक्टिकल बताया, जिसमें उन्होंने दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत खत्म करने के लिए 33 लाख पेड़ लगाने की बात कही थी। पात्रा ने कहा कि उन्हें थोड़ी प्रैक्टिल बात करनी चाहिए।

मोहल्ला क्लीनिक को बताया हो हल्ला क्लीनिक
पात्रा ने मोहल्ला क्लीनिक पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार ने कहा था कि मोहल्ला क्लीनिक पर डब्लूएचओ ने हमारी तारीफ की है, अमेरिका हमारी तारीफ कर रहा है, लेकिन जब कोरोना की दूसरी वेब आई तो मोहल्ला क्लीनिक ठप पड़ गए। आम आदमी पार्टी के ही राहुल मेहरा ने कहा कि ये तो 20 फीट के 2 कंटेनर होते हैं, इसमें हम कुछ नहीं कर सकते। यहां कोरोना मरीजों का ट्रीटमेंट किया गया तो ये सुपर स्प्रेडर का काम करेंगे।

खबरें और भी हैं...